The state of disharmony in Karnataka: a claim of Chief Minister Yogi Adityanath

हुबली (कर्नाटक): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को सिद्धरमैया सरकार पर प्रहार किया और कहा कि जिस तरह हिंदुओं और भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है वह ‘अराजकता की दशा’ को दर्शाता है. उन्होंने यहां पार्टी की एक रैली में कहा कि कोई भी भाजपा को विधानसभा चुनाव के बाद कर्नाटक में सरकार बनाने से नहीं रोक सकता. उन्होंने कांग्रेस पर 18 वीं सदी के मैसूर के शासक टीपू सुल्तान के प्रति सम्मान प्रदर्शित कर भारत की समृद्ध परंपरा को अपमानित करने का आरोप लगाया. कर्नाटक की कांग्रेस सरकार द्वारा टीपू जयंती मनाए जाने से बड़ा विवाद पैदा हो गया है तथा इस मुद्दे पर लोगों की राय बंट गई.

आदित्यनाथ ने कर्नाटक को हनुमान की जमीन बताते हुए और विजयनगर साम्राज्य का जिक्र करते हुए कहा कि यह बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस हनुमान और विजयनगर की पूजा करने के बजाय टीपू सुल्तान की पूजा कर रही है.

यह भी पढ़ें : यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ इस ‘खतरनाक वहम’ की परवाह किए बिना जाएंगे नोएडा…

उन्होंने हाल के दो विधानसभा चुनावों का उल्लेख करते हुए कहा , ‘यह मानसिकता का अंतर है क्योंकि कांग्रेस देश भर में माफिया राज लागू करना चाहती है जो राहुल गांधी को धरोहर में मिला है. कर्नाटक को इसे खारिज करना होगा जैसे गुजरात एवं हिमाचल ने किया है.

VIDEO : कब पूरा होगा घर का सपना? अधर में सीएम योगी का ऐलान​
यदि कर्नाटक एक ही बार में कांग्रेस को खारिज कर देती है तो कोई भी टीपू सुल्तान की पूजा करने नहीं आएगा.’ उन्होंने प्रदेश भाजपा की ‘परिवर्तन यात्रा’ रैली में कहा, ‘जिस तरह हिंदू और भाजपा कार्यकर्ताओं की नृशंस हत्या की जा रही है, ऐसे में उनके जीवन पर हमेशा खतरा मंडराता रहता है और यह कर्नाटक में कांग्रेस शासन में अराजकता की दशा को दर्शाता है.’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Source couple

Tags:
author

Author: