Exclsuive: इस बात पर होती थी शाहरुख़ और सुभाष घई की लड़ाई

Exclsuive: इस बात पर होती थी शाहरुख़ और सुभाष घई की लड़ाईExclsuive: इस बात पर होती थी शाहरुख़ और सुभाष घई की लड़ाई

अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। अब आप भी सोचने लगे होंगे कि अब तक तो कभी ऐसी खबरें नहीं आयीं कि शाहरुख़ भी कभी अपने निर्देशकों से लड़ाई करते हैं। लेकिन ये बात सही है। शाहरुख़ खान और सुभाष गई के बीच टेक्नॉलाजी को लेकर नोकझोंक वाली लड़ाई होती थी।

यह राज़ खुद सुभाष घई ने ही खोला है कि उनके और शाहरुख़ के बीच एक बात को लेकर काफी लड़ाई होती थी। सुभाष घई ने बताया कि शाहरुख़ एक बात पर सुभाष घई की खूब टांग खिंचाई करते थे। परदेस फिल्म की शूटिंग के दौरान शाहरुख़ खान और वह जब भी गप्पे मारने बैठते थे तो शाहरुख़ , उन्हें कहते थे कि वो बहुत टेक्नोसेवी हैं लेकिन सुभाष घई नहीं। तब सुभाष कहते थे कि वो हमेशा से इस बात पर यकीं करते आये हैं कि इंसान को हर दिन कुछ न कुछ नया सीखना चाहिए। इसलिए वह तकनीक को हमेशा फॉलो करते थे।सुभाष घई शाहरुख़ को हमेशा कहते “उम्र में बड़ा हूं तो क्या हुआ? तुम्हारी तरह ही मैं भी अपडेट हूं।”

यह भी पढ़ें:जॉन अब्राहम के जीवन में आई सविता दामोदर परांजपे, देखिये तस्वीर

 

सुभाष घई बताते हैं कि हम दोनों में हमेशा बेट लगती थी कि कौन ज्यादा से ज्यादा तकनीक को लेकर अपडेट है। अब वह अपनी बेटी मेघना से शर्त लगाते हैं। उनका कहना है कि वह आज भी पूरी तकीनीकी तब्दीलियों से वाकिफ हैं और इस बात को अच्छी तरह समझते हैं कि सिनेमा की बदलते दुनिया में तकनीक के साथ चलना कितना जरूरी है। सुभाष का मानना है कि आज की पीढ़ी के साथ सिर्फ समस्या यह है कि उन्हें तकनीक की तरह ही बिल्कुल तेजी से सारे काम करने हैं जबकि सिनेमा आज भी पेशेंस का ही काम है। जितनी जतन से फिल्म बनायेंगे, उतनी अच्छी बनेंगी। ये बात तो अपनी एक्टिंग इंस्टीट्यूट में स्टूडेंट्स को भी बताते हैं।

यह भी पढ़ें:ट्यूबलाइट जली तो सलमान खान ने पहली बार जोड़ लिया ये सुरीला नाता

सिनेमा की दुनिया में आने वाले नए युवा कलाकारों को सुभाष घई अपनी तरफ से यही टिप्स देना चाहते हैं कि गुड लुकिंग मैटर नहीं करता अब। गुड एक्टिंग की दरकार है। एक्टिंग की ट्रेनिंग और तैयारी करनी चाहिए न कि सिक्स पैक एब्स की।

Tags:
author

Author: