हेपेटाइटिस के प्रति अवेयरनेस फैलाने के लिए अमिताभ बच्चन का एेसा होगा योगदान

हेपेटाइटिस के प्रति अवेयरनेस फैलाने के लिए अमिताभ बच्चन का एेसा होगा योगदानहेपेटाइटिस के प्रति अवेयरनेस फैलाने के लिए अमिताभ बच्चन का एेसा होगा योगदान

अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन द्वारा हेपेटाइटिस के प्रति अवेयरनेस फैलाने के लिए ब्रांड एम्बेसेडर चुने गए हैं। अमिताभ बच्चन WHO द्वारा गुडविल एम्बेसेडर नियुक्त किये गए हैं। अमिताभ ने इससे जुड़े कार्यक्रम के दौरान बताया कि वह पिछले कई सालों से इस बीमारी से जूझ रहे हैं । उन्हें ऐसा लगता है कि अगर वह इसे रोकने वाले माध्यम के साथ जुड़ेंगे, तो यह उनका इस बीमारी को जड़ से खत्म करने में एक योगदान होगा। 

यह पूछे जाने पर कि आमतौर पर कई सेलेब्रिटी अपनी बीमारी के बारे में सार्वजनिक रूप से बोलना पसंद नहीं करते हैं। इस पर अमिताभ ने कहा, ”मैं बाकी लोगों के बारे में अधिक नहीं जानता। लेकिन मुझे लगता है कि अगर मैं ऐसी चीजों से जुड़ता हूं तो लोग बात करेंगे। इस बारे में अवेयर होंगे, जो कि बेहद जरूरी भी है कि लोगों तक यह बात पहुंचे। अमिताभ ने यह भी बताया कि पिछले कई सालों से उनका 75 प्रतिशत लीवर भी बुरी तरह खराब है। इसलिए वह अपने खान-पान का पूरा ख्याल रखते हैं। साथ ही योग भी जरूर करते हैं, ताकि वह खुद को बाकी कामों के लिए फिट रख सकें। अमिताभ ने यह भी बताया है कि हेपेटाइटिस की रोकथाम के लिए तीन महीने की मेडिसिन का भी कोर्स आता है। वह भी कर लेना चाहिए। 

यह भी पढ़ें: जब शाहरुख़ खान ने फिल्म ‘बाहुबली 2′ को कहा हमारी अपनी फिल्म

दिलचस्प बात यह रही कि जब उनसे मीडिया ने यह जानने की कोशिश की कि क्या उन्होंने ‘बाहुबली’ देखी है? ‘बाहुबली’ की सफलता को वह किस तरह देखते हैं? इस सवाल पर पहले तो उन्होंने कहा कि हम यहां सिर्फ हेपेटाइटिस की बात करेंगे। लेकिन फिर उन्होंने मजाकिया अंदाज़ में इस सवाल को इवेंट से जोड़ते हुए कहा कि थैंक गॉड ‘बाहुबली’ हेपेटाइटिस से सफर नहीं कर रहा। 

Tags:
author

Author: