साढ़े 14 करोड़ रुपये का मैदान पर फिर दिखा दम, लंगड़ाते हुए बना डाले नए रिकॉर्ड

साढ़े 14 करोड़ रुपये का मैदान पर फिर दिखा दम, लंगड़ाते हुए बना डाले नए रिकॉर्डसाढ़े 14 करोड़ रुपये का मैदान पर फिर दिखा दम, लंगड़ाते हुए बना डाले नए रिकॉर्ड

(शिवम् अवस्थी), नई दिल्ली। गुजरात लायंस को सोमवार रात अंदाजा तो होगा कि जिस पुणे की टीम के खिलाफ वो मैदान पर उतरने जा रहे हैं उसमें कई मैच जिताऊ खिलाड़ी मौजूद हैं, लेकिन शायद उन्होंने ये नहीं सोचा होगा कि बेहद खराब शुरुआत के बावजूद कोई खिलाड़ी अकेले उन्हें पस्त कर देगा। खिलाड़ी भी ऐसा वैसा नहीं, आइपीएल का सबसे महंगा खिलाड़ी।

– साढ़े 14 करोड़ का शतकीय दम

आइपीएल नीलामी में साढ़े 14 करोड़ रुपये की सबसे महंगी रकम में बिकने वाले पुणे के इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्टोक्स शुरुआती मैचों में तो कुछ खास नजर नहीं आए। समय बीता और देखते-देखते ये खिलाड़ी रंग दिखाने लगा। सोमवार रात तो उन्होंने ऐसी पारी खेल डाली कि गुजरात के गेंदबाज चारों खाने चित हो गए। गुजरात ने पुणे को 162 रनों का लक्ष्य दिया था और जब वो पुणे जवाब देने उतरा तो 10 रन पर उनके 3 विकेट भी गिरा दिए। हालांकि असल धमाल तो इसके बाद शुरू होना था। बेन स्टोक्स ने लय पकड़ी और पहले 38 गेंदों पर पचासा जड़ा और देखते-देखते 61 गेंदों पर शतक जड़ डाला। वो अंत तक टिके रहे और 63 गेंदों पर 103 रनों का लाजवाब पारी खेल डाली। उनकी इस पारी में 6 छक्के और 7 चौके शामिल रहे। एक समय बैकफुट पर दिख रही पुणे ने ये मैच 5 विकेट से जीत लिया।

– लंगड़ाते-लंगडा़ते खेले लेकिन हार नहीं मानी

स्टोक्स जब अपने शतक से तकरीबन 20-25 रन दूर थे तब उनके पैर में खिंचाव आ गया। दर्द उनके चेहरे पर साफ नजर आ रहा था लेकिन इस खिलाड़ी ने इस दौरान न सिर्फ लंगड़ाते-लंगड़ाते रन पूरे किए बल्कि लगातार चौके-छक्के बरसाते रहे। जब स्टोक्स 97 रन पर खेल रहे थे तब एक रन लेने के बाद उनका दर्द इतना बढ़ गया कि वो पिच पर ही गिर गए। लगा कि अब शतक के बचे दो रन पूरे नहीं हो पाएंगे और वो आउट हुए तो पुणे की जीत भी मुश्किल में आ जाती। कुछ मिनटों का ब्रेक हुआ और एक बार फिर ये खिलाड़ी सामने था। उन्होंने छक्का जड़कर न सिर्फ अपना पहला आइपीएल शतक पूरा किया, बल्कि टीम को भी जीत के करीब पहुंचा दिया।

– जीत दिलाई, रिकॉर्ड भी बनाए

आपको बता दें कि इस मैच से पहले स्टोक्स ने मौजूदा सीजन में दो बार मैन ऑफ द मैच के खिताब जीते थे और दोनों ही बार उन्हें ये पुरस्कार गेंदबाजी के लिए मिला था। उनका तीसरा मैन ऑफ द मैच बल्लेबाजी के दम पर मिला जो उनके एक विश्व स्तरीय ऑलराउंडर होने का एक और बेहतरीन सबूत है। इस शतकीय पारी के साथ स्टोक्स ने ट्वंटी20 क्रिकेट में अपने पुराने सर्वश्रेष्ठ स्कोर (77) का रिकॉर्ड पीछे छोड़ दिया। यही नहीं, लक्ष्य का पीछा करते हुए आइपीएल में नंबर.5 या उससे नीचे बल्लेबाजी करने वाले किसी भी खिलाड़ी द्वारा ये (103) सर्वाधिक स्कोर है। इसके अलावा ये इस सीजन का चौथा शतक साबित हुआ लेकिन लक्ष्य का पीछा करते हुए किसी भी खिलाड़ी या गैर-ओपनर खिलाड़ी का पहला शतक रहा। 

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: