विराट कोहली की पार्टी में विजय माल्या ने डाला रंग में भंग

विराट कोहली की पार्टी में विजय माल्या ने डाला रंग में भंगविराट कोहली की पार्टी में विजय माल्या ने डाला रंग में भंग

जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। बैंक लोन की अदायगी नहीं करने वाले भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने सोमवार को लंदन (इंग्लैंड) में विराट कोहली फाउंडेशन द्वारा आयोजित चैरिटी डिनर में पहुंचकर ‘रंग में भंग’ डाल दिया। कप्तान कोहली समेत पूरी टीम ने उनसे दूरी बनाए रखी। माल्या की मौजूदगी से असहज टीम इंडिया किसी विवाद से बचने के लिए बिना खाना खाए कार्यक्रम से जल्दी निकल गयी। इससे पहले माल्या एजबेस्टन (बर्मिंघम) में रविवार को भारत और पाकिस्तान का मैच देखने स्टेडियम भी पहुंचे थे।

 भारत सरकार 9500 करोड़ रुपये के कथित बकाया लोन की वसूली के लिए इंग्लैंड से माल्या के प्रत्यर्पण की कोशिश में है। माल्या आइपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर के मालिक थे जिसके कप्तान कोहली हैं।
कार्यक्रम में मौजूद बीसीसीआइ के एक सूत्र ने बताया कि माल्या की मौजूदगी के कारण कोहली और भारतीय टीम असहज हो गयी थी। उन्होंने कहा, ‘विराट या उनके फाउंडेशन ने माल्या को आमंत्रित नहीं किया था। लेकिन आम तौर पर चैरिटी डिनर में किसी ने अगर टेबल बुक की है तो वह अपने मेहमानों को बुला सकता है। किसी ने ऐसा ही किया होगा। भारतीय टीम माल्या की मौजूदगी से सहज नहीं थी और उनसे दूरी बनाए रखी। माल्या के कारण ही टीम जल्दी रवाना हो गयी। खिलाड़ी काफी असहज थे। यह अजीब स्थिति थी, क्योंकि कोई उन्हें जाने को नहीं कह सकता था।’ 
देखेंगे भारत के सभी मैच :
वहीं, माल्या ने ट्विटर पर दिए अपने संदेश में कहा, ‘एजबेस्टन में भारत-पाकिस्तान मैच में मेरी उपस्थिति पर मीडिया में काफी बड़ी कवरेज हुई, लेकिन मैं तो भारत के हर मैच में ही अपनी टीम को चीयर करने के लिए आना चाहता हूं।

कर्ज तले दबे हैं फरार माल्या
– 9,500 करोड़ रुपये है माल्या पर भारतीय बैंकों का बकाया कर्ज
– 9,661 करोड़ रुपये है माल्या की जब्त की गई संपत्ति की कीमत
– 2 मार्च, 2016 को माल्या गुपचुप तरीके से लंदन भागे।
– जनवरी, 2017 में सीबीआइ ने माल्या के खिलाफ 720 करोड़ के आइडीबीआइ कर्ज मामले में गैरजमानती वारंट जारी किया।
– जनवरी में ही मुंबई की अदालत ने माल्या को भगोड़ा घोषित किया।
– इस साल आठ फरवरी को भारत ने ब्रिटेन से प्रत्यर्पण संधि के तहत माल्या केप्रत्यर्पण का अनुरोध किया था।
– 18 अप्रैल, 2017 को प्रत्यर्पण प्रक्रिया के तहत ब्रिटिश पुलिस ने माल्या को गिरफ्तार किया, कुछ घंटे बाद 5.26 करोड़ रुपये की जमानत पर रिहा किया।

यह भी पढें: उर्वरक बिक्री पर निगरानी को ले गठित होगा छापेमारी दल

यह भी पढें: इटावा में मां के सामने ही बेटी को निगल गया मगरमच्छ

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply