मैनचेस्टर धमाके के बाद खेल जगत में खलबली, अब बुधवार रात पर है सबकी नजर

मैनचेस्टर धमाके के बाद खेल जगत में खलबली, अब बुधवार रात पर है सबकी नजरमैनचेस्टर धमाके के बाद खेल जगत में खलबली, अब बुधवार रात पर है सबकी नजर

[स्पेशल डेस्क], शिवम् अवस्थी, नई दिल्ली। इंग्लैंड के मैनचेस्टर एरिना में देर रात एक म्यूजिक कॉन्सर्ट के दौरान धमाके ने पूरी दुनिया की नींद उड़ा दी है। इससे खेल जगत भला कैसे अछूता रहता। आखिर ये हमला एक ऐसे शहर में हुआ है जो इंग्लैंड की खेल विरासत का अहम हिस्सा है। आखिर बुधवार रात पर खेल जगत की नजरें क्यों टिकी हैं और ये शहर खेल जगत में क्या महत्व रखता है, आइए जानते हैं।

– सचिन ने यहीं जड़ा था अपना पहला शतक

दरअसल, ये शहर इंग्लैंड के विशाल और गौरवशाली खेल इतिहास का सबसे अहम हिस्सा है। सबसे पहले बात करते हैं क्रिकेट की। इसी शहर में स्थित है वो ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट स्टेडियम जहां पर भारत के महान पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का पहला शतक जड़ा था। अगस्त 1990 में यहीं पर इंग्लैंड के खिलाफ 17 साल के सचिन तेंदुलकर ने नाबाद 119 रनों की पारी खेली थी। इसके अलावा यहां पर कई एतिहासिक क्रिकेट मैच हुए जिन्हें कभी भुलाया नहीं जा सकेगा।

– फुटबॉल का गढ़

ये दुनिया के दिग्गज फुटबॉल क्लबों, मैनचेस्टर युनाइटेड और मैनचेस्टर सिटी का घर है। गली-मुहल्लों से लेकर शहर के बड़े बाजारों तक, आप कहीं भी जाएं तो आपको इन दो क्लबों की झलक बार, पब, दुकानों, विज्ञापन या फिर लोगों की जर्सी के जरिए मिल ही जाएगी। जिस मैनचेस्टर एरिना में कल रात धमाका हुआ उससे 15-20 मिनट की दूरी पर ही स्थित है ओल्ड ट्रैफर्ड का ऐतिहासिक फुटबॉल स्टेडियम जो मैनचेस्टर युनाइटेड का घरेलू मैदान है। जबकि कुछ ही दूर मैनचेस्टर सिटी में मैनचेस्टर सिटी फुटबॉल क्बल का घरेलू मैदान एतिहाद स्टेडियम स्थित है।

– बुधवार रात पर सबकी नजर

कल यानी बुधवार की रात स्वीडन के स्टॉकहोम में मैनचेस्टर की चहेती टीम मैनचेस्टर युनाइटेड का एजेक्स फुटबॉल क्लब से यूरोपा लीग का फाइनल मुकाबला होने वाला है। दरअसल, ये वही स्टॉकहोम शहर है जहां कुछ ही दिन पहले एक आतंकी हमला हुआ था। इसी अप्रैल की 7 तारीख को एक आतंकी ने एक ट्रक पर कब्जा करने के बाद इसे पूरी रफ्तार से वहां की क्वीन स्ट्रीट पर लोगों के बीच बेलगाम दौड़ा दिया था। उस हमले में पांच लोग मारे गए थे और 15 घायल हुए थे। आपको याद होगा कि नवंबर 2015 में जब फ्रांस की राजधानी पेरिस में फ्रांस और जर्मनी के बीच फुटबॉल मैच खेला जा रहा था तब उसी स्टेडियम के बाहर भी धमाका हुआ था जिससे फैंस व खिलाड़ी सब दहल गए थे। कल रात स्टॉकहोम के जिस फ्रेंड्स एरिना पर यूरोपा लीग फाइनल होने वाला है उसकी क्षमता तकरीबन 70,000 दर्शकों की है जो कि खचाखच भरा रहने वाला है। ऐसे में पुलिस को मौजूदा स्थिति को देखते हुए कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है।

क्रिकेट से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: