बॉलीवुड में ‘इशक़ज़ादे’ की 5वीं सालगिरह और ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’

बॉलीवुड में 'इशक़ज़ादे' की 5वीं सालगिरह और 'हाफ़ गर्लफ्रेंड'बॉलीवुड में ‘इशक़ज़ादे’ की 5वीं सालगिरह और ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’

मुंबई। निर्माता बोनी कपूर के बेटे अर्जुन कपूर को बड़े पर्दे पर आए पांच साल पूरे हो चुके हैं। 2012 में 11 मई को यशराज बैनर की फ़िल्म ‘इशक़ज़ादे’ से अर्जुन ने बतौर लीड एक्टर हिंदी सिनेमा में पहला क़दम रखा। हबीब फ़ैज़ल निर्देशित इस फ़िल्म में अर्जुन की पार्टनर परिणीति चोपड़ा बनीं, जिनके करियर की ‘इशक़ज़ादे’ दूसरी फ़िल्म थी। 

यशराज ने ‘इशक़ज़ादे’ की पांचवी सालगिरह पर एक मोशन पोस्टर शेयर किया है, जिसमें अर्जुन और परिणीति के किरदारों की झलकियां हैं। अर्जुन कपूर ने इन पांच सालों के सफ़र में सात फ़िल्में की हैं। 19 मई को रिलीज़ हो रही ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’ उनकी आठवीं फ़िल्म है। मोहित सूरी डायरेक्टिड फ़िल्म में श्रद्धा कपूर मोहित के अपोज़िट हैं। ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’ इसी नाम से आए चेतन भगत के नॉवल पर आधारित है। अर्जुन की पहली फ़िल्म ‘इशक़ज़ादे’ और ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’ में उनके किरदारों की तुलना करें तो कुछ दिलचस्प बातें देखने को मिलती हैं।

यह भी पढ़ें: अर्जुन को माधव झा बनाने के पीछे हैं ये बिहारी द्रोणाचार्य 

‘इशक़ज़ादे’ की कहानी जहां उत्तर प्रदेश के हरदोई में सेट थी और अर्जुन ने एक बाहुबली सियासी परिवार के गंवई लड़के पर्मा चौहान का किरदार निभाया था, जो सिर्फ़ बंदूक की भाषा जानता है। मगर ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’ में अर्जुन का किरदार माधव झा बिहार से ताल्लुक रखता है, जो दिल्ली में पढ़ रहा है। पर्मा और माधव में ज़मीन-आसमान का फ़र्क है, मगर दोनों हिंदी बोलने और समझने वाली जगहों पर पले-बढ़े हैं।

यह भी पढ़ें: ज़ंजीर और सरकार3 में है ये ज़बर्दस्त कनेक्शन, अमिताभ ने किया खुलासा

इन पांच सालों में अर्जुन की फ़िल्मों का चुनाव बताता है कि उन्होंने अपने किरदारों के ज़रिए ख़ुद को चैलेंज किया है। करियर की दूसरी फ़िल्म ‘औरंगज़ेब’ में ही वो डबल रोल में नज़र आए। ‘गुंडे’ जैसी रोमांटिक एक्शन फ़िल्म करने के बाद उन्होंने ‘2 स्टेट्स’ जैसी रोमांटिक ड्रामा फ़िल्म में काम किया, जो चेतन भगत के नॉवल पर ही आधारित थी।

यह भी पढ़ें: तो इसलिए हिंदी के साथ और भी भाषाओं में रिलीज़ होगी श्रीदेवी की मॉम

‘तेवर’ के ज़रिए उन्होंने एक बार फिर रोमांटिक-एक्शन जॉनर को ट्राई किया। वहीं ‘की एंड का’ में उन्होंने करियर का सबसे चैलेंजिंग किरदार निभाया। इस फ़िल्म में वो हाउस हज़्बैंड के रोल में थे और करीना कपूर उनकी बेटर हाफ़ के किरदार में दिखीं। 

Tags:
author

Author: