बॉक्सिंग के इतिहास में पहली बार, भारतीय महिला बॉक्सरों को मिला विदेशी कोच

बॉक्सिंग के इतिहास में पहली बार, भारतीय महिला बॉक्सरों को मिला विदेशी कोचबॉक्सिंग के इतिहास में पहली बार, भारतीय महिला बॉक्सरों को मिला विदेशी कोच

नई दिल्ली, प्रेट्र : पहली बार भारतीय महिला बॉक्सरों को विदेशी कोच मिला है। इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (एआइबीए) के थ्री स्टार कोच फ्रांस के स्टेफेन कोटलॉर्डा को लगभग दो वर्ष के लिए भारतीय महिला बॉक्सिंग टीम का कोच नियुक्त किया गया है।

यूरोपीय बॉक्सिंग परिसंघ के कोच आयोग के सदस्य 41 वर्षीय स्टेफेन बॉक्सरों के साथ जून के पहले सप्ताह में जुड़ेंगे। फिलहाल उनका कार्यकाल दिसंबर, 2018 तक के लिए रहेगा। इसके अलावा इटली के राफेले बर्गमास्को को युवा महिला बॉक्सरों का कोच नियुक्त किया गया है। एआइबीए के थ्री स्टार कोच बर्गमास्को दिसंबर, 2020 तक टीम के साथ रहेंगे। जबकि पुरुषों की टीम के कोच सैंटियागो नाइवे का अनुबंध भी दिसंबर, 2020 तक कर दिया गया है।

बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने कहा, ‘भारतीय खेल प्राधिकरण के साथ बैठक करने के बाद हमने तीनों कोच के अनुबंध को अंतिम रूप दिया। इसके साथ ही हम भारतीय कोचिंग में स्थिरता लाने की तरफ देख रहे हैं।’ कोटलॉर्डा एआइबीए प्रो-बॉक्सिंग और वल्र्ड सीरीज ऑफ बॉक्सिंग से मान्यता प्राप्त कोच है।

भारतीय बॉक्सिंग के इतिहास में पहली बार होगा जब तीन विदेशी कोच अलग-अलग टीमों को कोचिंग देंगे। मुख्य कोच नाइवे का साथ शिव सिंह और एसआर सिंह की अनुभवी जोड़ी देगी। महिला टीम के मौजूदा कोच गुरबक्श सिंह संधू ने इस नियुक्ति का स्वागत किया। उन्होंने कहा, ‘मैं इस फैसले का स्वागत करता हूं। महिला बॉक्सर पहली बार विदेशी कोच से ट्रेनिंग लेंगी और मुझे उम्मीद है कि इससे अच्छे नतीजे आएंगे।’

विदेशी कोच आने के बाद महिला टीम का पहला बड़ा टूर्नामेंट एशियन चैंपियनशिप होगा, जो नवंबर में वियतनाम में खेली जाएगी। वहीं, युवा महिला टीम अपने देश में गुवाहाटी में नवंबर में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में शिरकत करेगी।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: