फिल्म नूर और मातृ सिनेमाघरों में देने वाली हैं दस्तक, देखने से पहले पढ़ लें ये खास बातें

फिल्म नूर और मातृ सिनेमाघरों में देने वाली हैं दस्तक, देखने से पहले पढ़ लें ये खास बातेंफिल्म नूर और मातृ सिनेमाघरों में देने वाली हैं दस्तक, देखने से पहले पढ़ लें ये खास बातें

मुंबई। 2017 साल की शुरूआत में ही बॉलीवुड का बड़ा क्लैश हो गया था। बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख़ ख़ान की फिल्म ‘रईस’ और सुपरस्टार रितिक रोशन की फिल्म ‘काबिल’। ये तो दो सुपरस्टार्स की टक्कर थी। लेकिन अब एक और क्लैश होने जा रहे है। यह क्लैश अपने समय की मानी हुई एक्ट्रेस और आज के समय की ब्यूटीफुल एक्ट्रेस की फिल्मों के बीच है। दरअसल, रवीना टंडन की फिल्म ‘मातृ’ और सोनाक्षी सिन्हा की फिल्म ‘नूर’ 21 अप्रैल को रिलीज़ होने जा रही है। तो आइए इस क्लैश और फिल्मों के रिलीज़ से पहले आपको दोनों फिल्मों के बारे में खास और दिलचस्प जानकारी दे दें।

वुमन सेंट्रिक : रवीना टंडन की फिल्म ‘मातृ’ हो या फिर सोनाक्षी सिन्हा की फिल्म ‘नूर’, दोनों ही फिल्में वुमन सेंट्रिक हैं। जहां एक ओर रवीना टंडन की ‘मातृ’ फिल्म में महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों के खिलाफ आवाज उठाई जाती है वहीं सोनाक्षी की फिल्म ‘नूर’ एक जर्नलिस्ट लड़की की कहानी है। 

यह भी पढ़ें: ट्यूबलाइट में इस ‘Role’ में नज़र आयेंगी सलमान की Mom सलमा ख़ान

सेंसर बोर्ड की कैंची : फिल्म ‘मातृ’ में रेप केस से जुड़ी कहानी है जिसमें रवीना रेप पीड़िता की मां का किरदार निभाती हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि, कहीं से भी मदद न मिलने पर वो होने वाले अत्याचारों के खिलाफ जमकर आवाज उठाती हैं। फिल्म में सच्ची घटना को दिखाने के लिए कई सीन एेसे दर्शाए गए जिसको सेंसर ने कांटने का कहा। वहीं सेंसर बोर्ड ने ‘नूर’ फिल्म को लेकर भी आपत्तनि जताई। दरअसल, फिल्म में कुछ शब्द का उपयोग किया गया जिस पर सेंसर को आपत्ति थी। इसलिए दोनों फिल्मों ने सेंसर के नियमों का पालन किया जिसके बाद फिल्में रिलीज़ होने जा रही हैं। 

एक नई और एक पुरानी हसीना : रवीना टंडन अपने जमाने की बेहतरीन हसीनाओं में से एक हैं। उन्होंने कई सुपरहिट फिल्में दी हैं। लंबे अरसे के बाद वो फिल्म कर रही हैं। वहीं सोनाक्षी सिन्हां आज ही हसीना हैं। 

यह भी पढ़ें: Exclusive : जब ऋषि कपूर ने सुभाष घई को कहा था, डायरेक्टर हो पर तुम्हें म्यूजिक का सेंस है भी कि नहीं

स्टोरी : फिल्म ‘मातृ’ में लीड रोल एक्ट्रेस रवीना टंडन कर रही हैं। इसमें रवीना एक सामाजिक मुद्दे के खिलाफ आवाज उठाती नज़र आएंगी। दरअसल, यह फिल्म रेप केस पर आधारित है। रवीना एक मां के किरदार में हैं जिनकी बेटी का रेप हो जाता है। पीड़िता को न्याय दिलवाने के लिए रवीना हर कोशिश करती हैं। लेकिन उन्हें कहीं से कोई मदद नहीं मिलती। इसके बाद वो तय करती हैं कि वो खुद इसके खिलाफ आवाज उठाएंगी और न्याय हासिल करेंगी। वहीं, ‘नूर’ फिल्म में नूर नाम की एक लड़की है जो जर्नलिस्ट है। इस भूमिक में सोनाक्षी सिन्हा हैं। फिल्म में बताया गया है कि, नूर करना कुछ और चाहती है लेकिन उसे करना कुछ और ही पड़ता है। वो बतौर जर्ललिस्ट जिन खबरों पर काम करना चाहती है वो उसे नहीं मिलती। लेकिन आखिर में वो खुदको पहचानती है और आगे बढ़ती है। 

Tags:
author

Author: