पंजाब के शमिंदर बनेंगे विंबलडन के मेहमान, कर दिया खास काम

पंजाब के शमिंदर बनेंगे विंबलडन के मेहमान, कर दिया खास काम

जालंधर, अभिषेक श्रीवास्तव। खेल के मैदान में खिलाड़ियों का हुनर तो हर कोई देखता है, लेकिन कई ऐसी प्रतिभाएं भी होती हैं जो मैदान के बाहर बैठकर भी लोगों का दिल जीत लेती हैं। ऐसी ही एक प्रतिभा हैं पंजाब के फगवाड़ा जिले के गांव धानोकी के शमिंदर सिंह, जिन्होंने 12000 टूथपिक्स से विंबलडन के सेंटर कोर्ट का हूबहू मॉडल तैयार किया है। जब विंबलडन के आयोजकों ने यह देखा तो वे भी अभिभूत हुए बिना नहीं रह सके। 

उन्होंने 15 जुलाई को सेंटर कोर्ट पर खेले जाने वाला महिला फाइनल मैच देखने के लिए शमिंदर को खास न्योता दिया है। इससे पहले सिर्फ क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली को ही आयोजकों ने मेहमान के तौर पर बुलाया था। शमिंदर यह सम्मान पाने वाले पहले गैर खिलाड़ी भारतीय हैं। 

31 वर्षीय शमिंदर को यह मॉडल तैयार करने में करीब दस माह का समय लगा। उन्होंने इस पर पिछले साल सितंबर में काम शुरू किया था और यह तीन जुलाई को बनकर तैयार हुआ। इस स्टेडियम का डिजाइन बहुत अनोखा है। फेमस टेनिस कोर्ट के इस मॉडल में खुलने और बंद होने वाली छत, बाल्कनी, सीढ़ियां और सबसे अहम रॉयल बॉक्स भी है। 

पेशे से ट्रक ड्राइवर शमिंदर का टूथपिक से मॉडल तैयार करना जुनून बन गया है। उन्होंने लंदन से फोन पर बताया कि मैंने दस माह पहले इस पर काम शुरू किया था। हर हफ्ते, 40 घंटे इस पर काम किया। मैं कुछ अलग बनाना चाहता था, कुछ खास। वह इसे बच्चों की मदद के लिए नीलाम करना चाहते हैं। नीलामी से जो भी रकम मिलेगी उसे यूनिसेफ के सेव चिल्ड्रेन में दान करूंगा।

ओल्ड ट्रैफर्ड स्टेडियम का मॉडल भी बना चुके हैं

शमिंदर इससे पहले ओल्ड ट्रैफर्ड और मैनचेस्टर फुटबॉल स्टेडियम का भी मॉडल बना चुके हैं, जो टूथपिक से बनाया गया दुनिया का सबसे छोटा मॉडल है। मैनचेस्टर फुटबॉल स्टेडियम के लिए नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By
Bharat Singh 

Tags:
author

Author: