डिंपल कपाड़िया से सोनाक्षी सिन्हा तक… मिलिए बॉलीवुड की ‘कलम वाली बाइयों’ से

डिंपल कपाड़िया से सोनाक्षी सिन्हा तक... मिलिए बॉलीवुड की 'कलम वाली बाइयों' सेडिंपल कपाड़िया से सोनाक्षी सिन्हा तक… मिलिए बॉलीवुड की ‘कलम वाली बाइयों’ से

मुंबई। बॉलीवुड फ़िल्मों में कलाकारों को अक्सर जर्नालिस्ट के रोल में दिखाया जाता है। इन किरदारों की अहमियत कहानी की मांग के हिसाब से घटती-बढ़ती रहती है। वहीं किरदारों का प्रस्तुतिकरण भी इसी आधार पर बदलता रहा है। कभी ‘नई दिल्ली टाइम्स’ के विकास पांडे की तरह ये बेहद संजीदा हो जाता है, तो कभी ‘बजरंगी भाईजान’ के चांद नवाब की तरह कुछ मज़ाकिया। 

समय और सियासत के रुख़ के हिसाब से भी फ़िल्मों में जर्नालिस्टों के किरदारों को दिखाने का अंदाज़ बदलता रहा है। पत्रकार बनकर एक्टर्स सत्ता और सिस्टम से टकराते रहे हैं, कभी सीधे तो कभी किसी और किरदार की मदद करके। फ़िल्मों में ग्लैमर का तड़का लगाने वाली लीडिंग लेडीज़ पर भी इस पेशे का ख़ुमार चढ़ता हुआ देखा गया है। 

यह भी पढ़ें: Short Term Affairs: रिलीज़ से पहले हुआ राब्ता, रिलीज़ के बाद ख़त्म वास्ता

इस लिस्ट में सबसे ताज़ा नाम सोनाक्षी सिन्हा का जुड़ा है, जिन्होंने पिछली रिलीज़ ‘नूर’ में मुंबई बेस्ड पत्रकार नूर का रोल निभाया। ख़बरों को सनसनी बनाकर पेश करने का जो रिवाज़ इन दिनों चल पड़ा है, उस पर इस फ़िल्म के ज़रिए कमेंट किया गया है। सोना का किरदार फ़िल्म में अपनी पत्रकारिता के ज़रिए ख़ुद के वजूद की तलाश करते हुए दिखाया गया है। 

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड के 7 डैशिंग एक्टर्स, जिन्होंने फ़िल्मों में निभाए ट्यूबलाइट करेक्टर्स

प्रकाश झा की पॉलिटिकल थ्रिलर फ़िल्म ‘सत्याग्रह’ में करीना कपूर टीवी जर्नालिस्ट के किरदार में दिखाई दीं। इस फ़िल्म में उनका किरदार एक इंटरनेशनल जर्नालिस्ट से प्रेरित दिखाया गया था। 

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड की इन 5 एक्ट्रेसेज़ ने साउथ से शुरू किया करियर

 

सनी देओल की फ़िल्म ‘सिंह साहब द ग्रेट’ में अमृता राव ने इंवेस्टिगेटिव जर्नालिस्ट का रोल निभाया। सनी इस फ़िल्म में भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ते नज़र आए, जिसमें उनकी मदद अमृता का किरदार करता है।

यह भी पढ़ें: क्या है वो बात, जो इन शादी-शुदा एक्ट्रेसेज़ में कॉमन है

जॉन अब्राहम की फ़िल्म ‘मद्रास’ कैफ़े पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की साज़िश पर आधारित थी। इस फ़िल्म में जॉन जहां इंटेलीजेंस अफ़सर के रोल में थे, वहीं नर्गिस फ़ाखरी ने इंटरनेशनल जर्नालिस्ट का रोल निभाया।

यह भी पढ़ें: ये 7 फ़िल्में ना होतीं, तो अक्षय कुमार नहीं बन पाते बॉलीवुड के खिलाड़ी

पिछले कुछ सालों में अगर किसी एक्ट्रेस ने जर्नालिस्ट के पेशे को पूरे कंविक्शन के साथ पर्दे पर उतारा है, तो वो हैं कोंकणा सेन शर्मा। मधुर भंडारकर की फ़िल्म ‘पेज 3′ में कोंकणा ने पेज 3 जर्नालिस्ट का रोल निभाया था, जिसके लिए उन्हें काफ़ी तारीफ़े मिलीं।

यह भी पढ़ें: सलमान ख़ान की ट्यूबलाइट के बाद भारत-चीन युद्ध पर जेपी दत्ता की पलटन

  

‘नो वन किल्ड जेसिका’ में रानी मुखर्जी तेज़-तर्रार टीवी जर्नालिस्ट के रोल में दिखाई दीं। राज कुमार गुप्ता डायरेक्टिड फ़िल्म रियल लाइफ़ मर्डर केस से प्रेरित थी और विद्या बालन ने फ़िल्म में लीड रोल निभाया था।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड के ये 5 कपल्स फ़िटनेस को लेकर रहते हैं काफ़ी कांशस, देखें तस्वीरें

 

‘मुंबई मेरी जान’ में सोहा अली ख़ान जर्नालिस्ट बन चुकी हैं। मुंबई ट्रेन धमाकों की बैकग्राउंड पर बनी इस फ़िल्म में सोहा के किरदार के ज़रिए कुछ ज़रूरी बातें कहने की कोशिश की गई थी। 

यह भी पढ़ें: मिरेकल इन सेल नंबर 7 समेत ये फ़िल्में हो रही हैं बॉलीवुड में रीमेक

‘क्रांतिवीर’ में डिंपल कपाड़िया ने उस वक़्त जर्नालिस्ट का रोल निभाया था, जब ये पेशा उतना ग्लैमरस नहीं समझा जाता था, जितना आज है। आपको याद होगा, इस फ़िल्म में नाना पाटेकर ने एक डायलॉग में डिंपल को कलम वाली बाई कहकर संबोधित किया था। 

By
मनोज वशिष्ठ 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply