टीम इंडिया को इंग्लैंड में मिल रहा है घर जैसा माहौल, जानिए क्या है वजह

टीम इंडिया को इंग्लैंड में मिल रहा है घर जैसा माहौल, जानिए क्या है वजहटीम इंडिया को इंग्लैंड में मिल रहा है घर जैसा माहौल, जानिए क्या है वजह

लंदन, अभिषेक त्रिपाठी। जब आप मुंबई के वानखेड़े, दिल्ली के फिरोजशाह कोटला, कानपुर के ग्रीन पार्क और राजकोट के एससीए स्टेडियम सहित भारत में कहीं भी टीम इंडिया का मुकाबला देखने जाते हो वहां हाथ में तिरंगा लिए भारत माता की जय, इंडिया-इंडिया और गणपति बप्पा मोरिया की गूंज सुनाई देना आम बात होती है। लेकिन भारत से हजारों किलोमीटर दूर इंग्लैंड की राजधानी लंदन के ओवल स्टेडियम में भारतीय प्रशंसकों ने विराट एंड कंपनी को यह महसूस ही नहीं होने दिया कि वे भारत से बाहर खेल रहे हैं।

बर्मिघम में पाकिस्तान के खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी के मुकाबले में भारतीय प्रशंसक जिस संख्या और अंदाज में मौजूद थे उन्होंने लंदन में भी इसे जारी रखा। लंदन की सर्द हवाओं, ओवल स्टेडियम और ड्यूटी में लगे कुछ अंग्रेजों को छोड़ दें तो यहां का पूरा माहौल हिंदुस्तानी था।

इंडिया-इंडिया, भारत माता की जय और गणपति बप्पा मोरिया की गूंज अपने ही देश के स्टेडियम में अल्पसंख्यक दिख रहे अंग्रेजों को भी आश्चर्यचकित कर रही थी। आंकड़ों के मुताबिक इस समय इंग्लैंड में 17 लाख से ज्यादा भारतीय रहते हैं जिसमें से छह लाख लंदन में बसे हैं। लंदन में कुल जनसंख्या के करीब 6.4 फीसद भारतीय हैं।

मामला अपने देश का है

यहां भारतीय अंदाज में ढोल-नगाड़े बजा रहे ग्रुप के मुखिया हरीश उर्फ हैरी से जैसे ही पूछा कि इतना जुनून क्रिकेट के लिए? तो उन्होंने कहा कि भाई ये अपने देश का मामला है। हम कोशिश करते हैं कि भारत इंग्लैंड में जो भी मैच खेले उसमें उसका समर्थन करने जाएं। ओवल की दर्शक क्षमता 24000 है और घरेलू टीम का मैच नहीं होने के बावजूद गुरुवार को इस मुकाबले में 22203 दर्शक मौजूद थे। जब शिखर धवन ने अपना शतक पूरा किया तो उस समय पूरे स्टेडियम में धवन-धवन की गूंज के साथ तिरंगे ही लहराते हुए दिखाई दे रहे हैं। मैदान में मौजूद बीसीसीआइ के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना भी टीम इंडिया को मिल रहे समर्थन से काफी हैरान थे। 

अभी से फाइनल की योजना

एजबेस्टन में टैक्सी चलाने वाले जसवीर सिंह को जब तिरंगा लहराते देखा तो उनसे उनके क्रिकेट जुनून के बारे में पूछने से खुद को रोक नहीं पाया लेकिन उनके जवाब ने मेरी सारी जिज्ञासा शांत कर दी। जसवीर ने कहा, पाजी, यहां साफ-सफाई है, सब कुछ कानून के मुताबिक होता है, छोटा देश होने के बावजूद अपने देश से आगे है लेकिन चंगा तो साड्डा भारत ही है। मेरे परिवार ने तय किया है कि इस चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के सारे मैच देखूंगा और इसके लिए बाकायदा मैंने पूरी योजना बनाई है। मैंने अपने परिवार के साथ पाकिस्तान के खिलाफ भी मैच देखा था और यह देखने लंदन आया हूं। इसके बाद 11 को यही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले मैच को भी देखूंगा।

टीम इंडिया ले रही माहौल का लुत्फ

गत विजेता भारतीय टीम के खेल से भी यही लग रहा है कि उसे इंग्लैंड में मिल रहे भारतीय माहौल में खेलने में मजा आ रहा है और फिलहाल उनका शानदार खेल जारी है। अगर टीम ऐसा ही प्रदर्शन करती रही तो उसे खिताब जीतने से कोई नहीं रोक सकेगा। 
 

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By
Bharat Singh 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply