कभी भाई, कभी प्रेमी… बॉलीवुड की ग्लैमरस हीरोइंस की अजब कहानी

कभी भाई, कभी प्रेमी... बॉलीवुड की ग्लैमरस हीरोइंस की अजब कहानीकभी भाई, कभी प्रेमी… बॉलीवुड की ग्लैमरस हीरोइंस की अजब कहानी

मुंबई। आम तौर पर फ़िल्ममेकर्स दो ग्लैमरस सितारों को रोमांटिकली पेयर अप करना चाहते हैं, मगर कहानी में ट्विस्ट तब आता है, जब उन्हें भाई-बहन के रिश्ते में बांध दिया जाता है। ऐसे ही कुछ एक्टर्स, जिन्होंने एक ही हीरोइन से पर्दे पर राखी बंधवायी है और रोमांस भी किया है। 

रणवीर सिंह-प्रियंका चोपड़ा:

2014 की ‘गुंडे’ में प्रियंका चोपड़ा ने रणवीर सिंह के दिल में प्यार की घंटी बनायी थी, मगर अगले ही साल ‘दिल धड़कने दो’ में रणवीर और प्रियंका सिबलिंग्स के रोल में दिखे। इसी साल रिलीज़ हुई ‘बाजीराव मस्तानी’ में भी प्रियंका, रणवीर की पत्नी के रोल में थीं।

यह भी पढ़ें: चेहरा दिखे ना दिखे, बालों को फ्लांट करना नहीं भूलतीं अथिया शेट्टी

 

अर्जुन रामपाल-दीपिका पादुकोण:

2007 में दीपिका पादुकोण की डेब्यू फ़िल्म ‘ओम शांति ओम’ में अर्जुन रामपाल ने उनके लवर का रोल निभाया था। वहीं 2010 की फ़िल्म ‘हाउसफुल’ में अर्जुन दीपिका पादुकोण के बिग ब्रदर बन गए। फ़िल्म में दीपिका के अपोज़िट अक्षय कुमार थे।  

यह भी पढ़ें: अनुष्का ने वरुण से पूछी पहेली, सही जवाब पर मिला ईनाम सुई धागा

जॉन अब्राहम-दीपिका पादुकोण:

जॉन अब्राहम भी दीपिका पादुकोण से ये डबल रिश्तेदारी निभा चुके हैं। 2011 की फ़िल्म ‘देसी बॉयज़’ में दीपिका जॉन के अपोज़िट रोमांटिकली पेयर अप हुईं, जबकि 2013 की फ़िल्म ‘रेस 2′ में दीपिका जॉन की सिस्टर के रोल में नज़र आयीं। 

अभिषेक बच्चन-असिन:

2012 की फ़िल्म ‘बोल बच्चन’ में असिन ने अभिषेक बच्चन की बहन का रोल प्ले किया था, तो 2015 की ‘ऑल इज़ वेल’ में वो अभिषेक के साथ ऑनस्क्रीन रोमांस किया। 

यह भी पढ़ें: फ़र्स्ट हाफ़ में बॉलीवुड का रिपोर्ट कार्ड, बॉक्स ऑफ़िस पर फ़्लॉप ज़्यादा

तुषार कपूर-करीना कपूर:

तुषार कपूर ने 2001 में ‘मुझे कुछ कहना है’ फ़िल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया। करीना कपूर उनकी लीडिंग लेडी के रोल में थीं। इसके 7 साल बाद ‘गोलमाल रिटर्न्स’ में तुषार बेबो के भाई  के रोल में दिखायी दिये। हीरो अजय देवगन थे।

शाह रुख़ ख़ान-ऐश्वर्या राय:

2002 की फ़िल्म ‘जोश’ में शाह रुख़ ख़ान और ऐश्वर्या राय भाई-बहन के रोल में थे। इस फ़िल्म में शाह रुख़ के अपोज़िट प्रिया गिल थीं, वहीं ऐश के साथ चंद्रचूड़ सिंह पेयर अप हुए थे। इसके बाद दो साल बाद ‘देवदास’ में शाह रुख़ ने ऐश के साथ पर्दे पर रोमांस किया। ये सिलसिला बाद में भी जारी रहा।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड की इन एक्ट्रेसेज़ के डांसिंग स्किल्स हैं कमाल

सलमान ख़ान-नीलम:

1992 में आयी सलमान की फ़िल्म ‘एक लड़का एक लड़की’ में नीलम उनके साथ रोमांटिकली पेयर अप हुई थीं, मगर इसके सात साल बाद 1999 में नीलम सलमान की बहन बनकर पर्दे पर आईं, फ़िल्म थी- ‘हम साथ साथ हैं’।

 

 

अमिताभ बच्चन-हेमा मालिनी:

 

हेमा मालिनी और अमिताभ बच्चन ने सत्तर और अस्सी के दशक में कई बार ऑनस्क्रीन रोमांस किया, मगर 1973 की फ़िल्म ‘गहरी चाल’ में बिग बी हेमा मालिनी के भाई के रोल में नज़र आये थे। इस फ़िल्म में हेमा मालिनी के अपोज़िट जीतेंद्र को कास्ट किया गया था।

 

यह भी पढ़ें: सरोगेसी के ज़रिए पेरेंट्स बने ये 8 कपल्स, कुछ तो हैं अनमैरीड

 

 

अमिताभ बच्चन-सायरा बानो:

 

सत्तर के दशक की ख़ूबसूरत एक्ट्रेस सायरो बानो के साथ भी अमिताभ, भाई और प्रेमी का रिश्ता निभा चुके हैं। 1975 की फ़िल्म ‘ज़मीर’ में सायरा और अमिताभ सिबलिंग्स के रोल में थे, तो 1976 की फ़िल्म ‘हेराफेरी’ में सायरा, अमिताभ की लीडिंग लेडी बनीं।  

 

 

 

देव आनंद-ज़ीनत अमान:

 

1971 की फ़िल्म ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ में देव आनंद, ज़ीनत अमान जैसी अल्ट्रा-ग्लैमरस एक्ट्रेस के भाई बने थे। इसके दो साल बाद 1973 में आयी ‘हीरा पन्ना’ में देव साहब ने ज़ीनत के साथ पर्दे पर रोमांस किया।

 

 

धर्मेंद्र-मीना कुमारी:

 

धर्मेंद्र और मीना कुमारी का रिश्ता भी कुछ ऐसा रहा है। 1965 की फ़िल्म ‘काजल’ में धर्मेंद्र ने मीना कुमारी के भाई का रोल निभाया। इसके साल भर बाद आयी ‘फूल और पत्थर’ समेत कई फ़िल्मो में धर्मेंद्र और मीना कुमारी के बीच रोमांटिक पेयरिंग हुई। 

 

यह भी पढ़ें: 2017 के सेकंड हाफ़ में इन फ़िल्मों का है इंतज़ार, सलमान की टाइगर ज़िंदा है

 

 

रोमांस का चांस चूके रणदीप हुड्डा-ऐश्वर्या राय:

 

2016 की फ़िल्म ‘सरबजीत’ में रणदीप हुड्डा और ऐश्वर्या राय भाई-बहन के रोल में थे। इससे पहले रणदीप, ऐश के साथ रोमांस करने का चांस मिस कर गए। मधुर भंडारकर की 2012 की फ़िल्म ‘हीरोइन’ में ऐश्वर्या राय लीड रोल में थीं, जबकि क्रिकेटर बने रणदीप उनके लवर रे किरदार में थे। ऐश ने कुछ दिन शूट करने के बाद प्रिग्नेंसी के चलते फ़िल्म छोड़ दी और करीना कपूर की एंट्री हुई।

 

By
मनोज वशिष्ठ 

Tags:
author

Author: