एशियाई बॉक्सिंग में भारत के 4 पदक पक्के, विकास के मुक्के देख भागा विदेशी खिलाड़ी

एशियाई बॉक्सिंग में भारत के 4 पदक पक्के, विकास के मुक्के देख भागा विदेशी खिलाड़ीएशियाई बॉक्सिंग में भारत के 4 पदक पक्के, विकास के मुक्के देख भागा विदेशी खिलाड़ी

ताशकंद, पीटीआइ। शीर्ष वरीय विकास कृष्णन (75 किग्रा), चौथे वरीय शिव थापा (60 किग्रा), सुमित सांगवान (91 किग्रा) और अमित फांगल (49 किग्रा) ने दमदार प्रदर्शन करते हुए बुधवार को एशियाई बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में जगह बनाकर अपने पदक पक्के किए। इसके साथ ही चारों भारतीय बॉक्सरों ने विश्व चैंपियनशिप के लिए भी अपना स्थान पक्का किया।

हालांकि छठे वरीय राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता मनोज कुमार (69 किग्रा), गौरव विधूड़ी (56 किग्रा) और कविंदर सिंह (49 किग्रा) अपने-अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले हारकर पदक की दौड़ से बाहर हो गए हैं। 

विकास का क्वार्टर फाइनल में इंडोनेशिया के ब्रमा बेताउबुन से मुकाबला था। लेकिन विकास की आक्रामकता को देख ब्रमा ने मैच छोड़ दिया। अब विकास का सेमीफाइनल में कोरिया के चौथे वरीय दोंगयुन ली से मुकाबला होगा। विकास का इस टूर्नामेंट में यह लगातार दूसरा पदक है। वह 2015 में भारत की तरफ से अकेले रजत पदक विजेता थे।

सुमित ने भारत को दिन की पहली जीत दिलाई, जब उन्होंने तीसरे वरीय चीन के फेंगकाई यु को 4-1 से शिकस्त दी। शुक्रवार को को होने वाले सेमीफाइनल में सुमित का सामना अब ताजकिस्तान के तीसरे वरीय जैखोन कुरबोनोव से होगा। अमित ने चौथे वरीय इंडोनेशिया के कोर्नलिस क्वांगु लंगु को 4-1 से मात दी। अमित को सेमीफाइनल में उज्बेकिस्तान के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता हसनबोय दुसमातोव से भिड़ना है।

शिव ने क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपे के चु एन लाई को परास्त करके एशियाई चैंपियनशिप में अपना लगातार तीसरा पदक पक्का किया। उन्होंने लाई के खिलाफ मुकाबले में शुरू से दबदबा बनाए रखा। उनका शुक्रवार को सेमीफाइनल में मुकाबला शीर्ष वरीय चिनजोरिग बातारसुख से होगा। थापा ने इससे पहले 2013 में स्वर्ण और 2015 में कांस्य पदक जीता था।

हालांकि गौरव, कविंदर और मनोज के लिए क्वार्टर फाइनल मुकाबला दिल तोड़ने वाला रहा। गौरव चीन के दूसरे वरीय जियावेई च्यांग से 2-3 के स्कोर से हार गए। जबकि कविंदर को लोकल बॉक्सर जसुरबेक लतीपोव के हाथों हार का सामना करना पड़ा। इस बीच, अनुभवी बॉक्सर मनोज को कड़े मुकाबले में तीसरे वरीय मंगोलिया के टूवशिनबाट बायाबा से शिकस्त का सामना करना पड़ा। इन तीनों बॉक्सरों को विश्व चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई करने के लिए बाक्स ऑफ मुकाबले खेलने होंगे। गौरव का सामना जापान के रियोमेई तनाका से होगा जबकि कविंदर की भिड़ंत मलेशिया के अब्दुल सलाम कासिम से होगी।

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: