एक कंगारू ने यूं तोड़ा दूसरे कंगारू का सपना, जानिए सबसे रोमांचक ओवर का पूरा हाल

एक कंगारू ने यूं तोड़ा दूसरे कंगारू का सपना, जानिए सबसे रोमांचक ओवर का पूरा हालएक कंगारू ने यूं तोड़ा दूसरे कंगारू का सपना, जानिए सबसे रोमांचक ओवर का पूरा हाल

[स्पेशल डेस्क], नई दिल्ली। आइपीएल-10 के फाइनल में वो सब कुछ देखने को मिला जो एक फाइनल मुकाबले में फैंस देखना चाहते हैं। मुंबई ने पुणे को अंतिम गेंद पर 1 रन से हराकर तीसरी बार ये खिताब जीत लिया। मैच में एक समय ऐसा था जब पुणे की टीम 129 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल करने की ओर बढ़ रही थी। कप्तान स्टीवन स्मिथ भी मजबूती से टिके हुए थे लेकिन फिर आया वो अंतिम ओवर जब सब कुछ बदल गया…..

– कंगारू कप्तान का सामना रिटायर्ड कंगारू से

अंतिम ओवर में पुणे को जीत के लिए 11 रन चाहिए थे और पिच पर स्टीवन स्मिथ और मनोज तिवारी टिके हुए थे। पुणे के पास अभी 7 विकेट बाकी थे और स्मिथ अर्धशतक जड़कर मजबूत नजर आ रहे थे। तभी मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके ऑस्ट्रेलिया के उस तेज गेंदबाज को गेंद थमा दी जिसने इस मैच से पहले टूर्नामेंट में सिर्फ चार मैच खेले थे और उतने ही विकेट लिए थे।

– वो अंतिम ओवर

अंतिम ओवर में जॉनसन के हाथ में गेंद थी। पहली गेंद पर सामने थे मनोज तिवारी और फिर शुरू हुआ धमाल..

पहली गेंद- मनोज तिवारी ने ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को स्क्वायर लेग के ऊपर से उठाकर चौका जड़ दिया। अब 5 गेंदों पर चाहिए सिर्फ 7 रन।

दूसरी गेंद- मनोज तिवारी ऑफ कटर की उम्मीद कर रहे थे और वही गेंद भी मिली। एक्स्ट्रा कवर के ऊपर से जड़ने का प्रयास किया लेकिन सही से शॉट नहीं खेला। लॉन्ग ऑन पर पोलार्ड ने लाजवाब कैच लपका। आउट हुए मनोज तिवारी। अब 4 गेंदों पर 7 रन चाहिए। उनकी जगह डेन क्रिस्चियन पिच पर आए।

तीसरी गेंद- स्मिथ ने ऑफ स्टंप से बाहर की इस गेंद को एक्स्ट्रा कवर के ऊपर से खेलने के इरादे से जड़ा लेकिन स्वीपर कवर फील्डर अंबाती रायुडू ने पूरी रफ्तार से हवा में लहराती इस गेंद को लपक लिया। मुंबई के हजारों फैंस झूम पड़े। कप्तान स्मिथ आउट। अब 3 गेंदों पर 7 रन चाहिए।

चौथी गेंद- स्ट्राइक पर नए बल्लेबाज 17 वर्षीय वॉशिंगटन सुंदर आए और इस गेंद को छू तक नहीं सके हालांकि बल्लेबाजों ने तेज दौड़ लगाकर बाइ का रन लपक लिया। अब 2 गेंदों पर 6 रन चाहिए और स्ट्राइक पर सिक्सर किंग क्रिस्चियन मौजूद।

पांचवीं गेंद- इस गेंद पर क्रिस्चियन ने अच्छा शॉट खेला और डीप मिडविकेट पर हार्दिक पांड्या ने कैच छोड़ दिया। बल्लेबाजों ने 2 रन लिए और क्रिस्चियन एक बार फिर स्ट्राइक पर आ गए। अब 1 गेंद पर जीत के लिए 4 रन और टाइ के लिए 3 रनों की जरूरत।

छठी गेंद- जॉनसन ने फिर लेग साइड पर गेंद फेंकी। गेंद डीप स्क्वायर लेग और डीप मिडविकेट के बीच में गई। इधर दोनों बल्लेबाजों ने दौड़ लगाई तो उधर फील्डर सुचित ने गेंद लपकते समय थोड़ी सी चूक की, हालांकि गेंद उठाकर फिर कीपर पार्थिव पटेल की दिशा में एक सटीक थ्रो फेंका। तब तक बल्लेबाज दो रन ही ले पाए थे, तीसरे रन के लिए दौड़े लेकिन तब तक पार्थिव पटेल ने गिल्लियां बिखेर दीं। जॉनसन का लाजवाब ओवर। मैच समाप्त। मुंबई ने 1 रन से मैच जीता और तीसरी बार खिताब भी।

 

– शिवम् अवस्थी

यह भी पढ़ेंः इन 15 खिलाड़ियों ने ठोका अपना दावा, IPL 2018 की नीलामी में बटोरेंगे करोड़ो रुपये

Tags:
author

Author: