इन फ़िल्मों में जब फूट-फूटकर रोये सलमान, गीले हुए दर्शकों के रुमाल

इन फ़िल्मों में जब फूट-फूटकर रोये सलमान, गीले हुए दर्शकों के रुमालइन फ़िल्मों में जब फूट-फूटकर रोये सलमान, गीले हुए दर्शकों के रुमाल

अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। सलमान ख़ान की फ़िल्म ‘ट्यूबलाइट’ जल्द ही रिलीज़ होने वाली है। इस फ़िल्म के गाने और ट्रेलर में सलमान का इमोशनल अवतार नज़र आ रहा है। ख़बर है कि फ़िल्म में भी सलमान के कई इमोशनल सीन हैं, जिनमें सलमान का रोना असली है।

दरअसल, सलमान का यह मासूम किरदार दर्शकों को कई बार आकर्षित करता रहा है। यह एक संयोग है कि जब-जब पर्दे पर सलमान रोये हैं, दर्शकों को उन्होंने प्रभावित किया है। सलमान की कुछ ऐसी ही फ़िल्मों पर एक नज़र-

1. तेरे नाम:

यह भी पढ़ें: बैंक चोर- पर्दे पर हुए जब बैंक खाली, प्रोड्यूसर की मनी दिवाली

 

‘तेरे नाम’ सलमान की उन फ़िल्मों में से एक है, जिनमें सलमान नायिका के प्रेम में अपना सब कुछ न्योछावर कर देते हैं। फ़िल्म में उनके कई इमोशनल सीन हैं। तेरे नाम सलमान की बेहतरीन अदाकारी वाली फ़िल्मों में शामिल है। उस दौर में जब सलमान की लगातार फिल्में फ्लॉप हो रही थीं, तेरे नाम ने उन्हें संभाला था।

2. हम दिल दे चुके सनम:

यह भी पढ़ें: इन सेलेब्रिटीज़ की अजीब आदतें जानकर मुंह खुला रह जाएगा

‘हम दिल दे चुके सनम’ में सलमान ने ट्रेजिक किरदार निभाया। इस फ़िल्म में वह नंदिनी ( ऐश्वर्या राय बच्चन) का प्यार हासिल नहीं कर पाते हैं और फूट-फूटकर रोते हैं। फ़िल्म का ट्रेजडी सांग, तड़प-तड़प के इस दिल से आह निकलती रही…, काफी लोकप्रिय हुआ था। यह सलमान के करियर की बेस्ट फ़िल्मों में से एक है।

3. बजरंगी भाईजान:

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड में ये एक्टर्स निभा चुके हैं किसान का किरदार, जो आज भी हैं यादगार

‘बजरंगी भाईजान’ में सलमान का किरदार काफ़ी इमोशनल दिखाया गया, जो दूसरों का दर्द देखकर पिघल जाता है। फ़िल्म की कहानी में वह मुन्नी को उसके देश पाकिस्तान छोड़ने जाते हैं। फ़िल्म के कई दृश्य दर्शकों को इमोशनल करते हैं। ख़ास तौर से फ़िल्म का क्लाइमेक्स दृश्य काफ़ी इमोशनल रहा।

4. जान-ए-मन:

यह भी पढ़ें: ये एक्ट्रेसेज़ बन गई हैं एक-दूसरे की कॉपी कैट, वजह जानिए इस ख़बर में

 

‘जान-ए-मन’ भी उन फ़िल्मों में से एक है, जिनमें सलमान की प्रेमिका उनसे रूठकर चली जाती है और फिर उन्हें एहसास होता है कि उन्होंने गलती की है। इस फ़िल्म का भी एक ट्रेजडी सांग, सौ दर्द हैं, सौ चाहतें…इश्क मासूम, काफी लोकप्रिय हुआ। 

5. ट्यूबलाइट:

यह भी पढ़ें: सलमान ख़ान की ट्यूबलाइट के बाद भारत-चीन युद्ध पर जेपी दत्ता की पलटन

‘ट्यूबलाइट’ में दर्शक सलमान के गानों को देख ही रहे हैं। फ़िल्म दो भाइयों की कहानी पर आधारित है। भाई जंग के लिए जाता है और लापता हो जाता है। सलमान का किरदार उसकी तलाश के लिए निकलता है। इसी तलाश के दौरान जंग के साइड इफ़ेक्ट्स पर भी फ़िल्म रौशनी डालती है। दिलचस्प है कि इस फ़िल्म में भी सलमान के रोने वाले दृश्य काफी पसंद किये जा रहे हैं। 

By
मनोज वशिष्ठ 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply