इन दोनों ने कर दिया कमाल, बस 23 रन लुटाकर ले डाले इतने विकेट

इन दोनों ने कर दिया कमाल, बस 23 रन लुटाकर ले डाले इतने विकेटइन दोनों ने कर दिया कमाल, बस 23 रन लुटाकर ले डाले इतने विकेट

(शिवम् अवस्थी), नई दिल्ली। आइपीएल-10 के दूसरे क्वालीफायर मैच में दो-दो बार आइपीएल खिताब जीत चुकीं कोलकाता और मुंबई की टीमें आमने-सामने रहीं। इस मैच में कोलकाता की टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी और उनके लिए नतीजे हैरान करने वाले रहे। जो बल्लेबाज पूरे टूर्नामेंट में धमाल मचाते आ रहे थे वे सब ताश के पत्तों की तरह बिखर गए। पूरी टीम 18.5 ओवर में 107 रन के अंदर पवेलियन लौट गई। इसका श्रेय जाता है मुंबई के दो गेंदबाजों को।

– इन दोनों ने मचाई धूम

हम बात कर रहे हैं मुंबई के स्पिनर कर्ण शर्मा और पेसर जसप्रीत बुमराह की। मैच में बुमराह ने दूसरे ही ओवर में क्रिस लिन (5)  को आउट करके इस विकेट पतन की शुरुआत की। इसके बाद ये सिलसिला थमा नहीं। शुरुआती व मध्य ओवरों में स्पिनर कर्ण शर्मा और बुमराह के कहर ने कोलकाता को पूरी तरह से बेबस कर दिया। कर्ण शर्मा ने जहां 4 ओवर में 16 रन लुटाते हुए 4 विकेट झटके। वहीं बुमराह ने 3 ओवर में 1 मेडन के साथ कुल 7 रन देते हुए 3 विकेट हासिल किए। यानी दोनों ने मिलकर कुल 7 ओवर में सिर्फ 23 रन लुटाते हुए 7 विकेट लिए। इसके अलावा पारी के बाकी विकेट जॉनसन (2 विकेट) और मलिंगा (1 विकेट) ने हासिल किए।

– एक से एक धुरंधर ऐसे लौटा पवेलियन

कर्ण शर्मा और बुमराह ने कोलकाता के एक से एक धुरंधर बल्लेबाज को पवेलियन का रास्ता दिखाने में जरा भी देर नहीं की। सिर्फ सूर्यकुमार यादव (31) और इशांक जग्गी (28) ही कुछ देर टिक सके। आलम ये रहा कि कोलकाता के 7 खिलाड़ी तो दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर सके। ये हैं कर्ण और बुमराह के विकेट..

बुमराह के शिकारः क्रिस लिन (4 रन पर कैच आउट), रॉबिन उथप्पा (1 रन पर कैच आउट) और सूर्यकुमार यादव (31 रन पर कैच आउट)

कर्ण शर्मा के शिकारः सुनील नरेन (10 रन पर कैच आउट), गौतम गंभीर (12 रन पर कैच आउट), कॉलिन डी ग्रैंडहोमे (0 पर एलबीडब्ल्यू) और इशांक जग्गी (28 रन पर कैच आउट)

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: