इतना क्यों कूद रहा है पाकिस्तान, क्या भूल गया चार साल पुरानी बात

इतना क्यों कूद रहा है पाकिस्तान, क्या भूल गया चार साल पुरानी बातइतना क्यों कूद रहा है पाकिस्तान, क्या भूल गया चार साल पुरानी बात

नई दिल्ली, संजय सावर्ण। भारत और पाकिस्तान 4 जून को चैंपियंस ट्रॉफी के ग्रुप बी के लीग मुकाबले में एक-दूसरे के आमने-सामने होंगे। इस महामुकाबले से पहले माहौल बिल्कुल गर्म हो चुका है। विराट जहां इस मैच के एक सामान्य मैच की तरह देख रहे हैं लेकिन पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद ने खुले तौर पर भारत को चुनौती दे दी है और कहा कि चैंपियंस ट्रॉफी में हम भारत को हराने का सिलसिला जारी रखना चाहेंगे। 

क्या पाकिस्तान भूल गया वो चार साल पुरानी बात

पिछली चैंपियंस ट्रॉफी यानी 2013 में भारत ने पाकिस्तान को लीग मुकाबले में बुरी तरह से हराया था। वर्षा से बाधित इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर पाकिस्तान को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान की टीम 39.4 ओवर में 165 रन पर ही सिमट गई थी। पाकिस्तान की तरफ से इस मैच में असद शफीक ने ही सिर्फ 41 रन की सबसे बड़ी पारी खेली थी। शफीक के अलावा टीम के सभी बल्लेबाज बुरी तरह से फ्लॉप रहे थे। वहीं बारिश की वजह से डकवर्थ-लुईस नियम के तहत भारत को जीत के लिए 22 ओवर में 102 रनों का लक्ष्य मिला। इस लक्ष्य को भारत ने बड़ी आसानी से 19.1 ओवर में 2 विकेट पर हासिल कर लिया। इस मैच में शिखर धवन ने 41 गेंदों पर 48 रन की शानदार पारी खेली थी।

आखिरी वनडे में भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाई

भारत और पाकिस्तान के बीच आखिरी वनडे मुकाबले वर्ल्ड कप 2015 के दौरान खेला गया था। 15 फरवरी 2015 में एडिलेड ओवर में खेले गए इस मुकाबले में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विराट की शानदार 107 रन की पारी के दम पर 50 ओवर में 7 विकेट पर 300 रन बनाए थे। इसके जबाव में पाकिस्तान की टीम 47 ओवर में 224 रन पर ऑल आउट हो गई थी और उसे 76 रन से हार मिली थी। 

विराट के लिए बड़ा चैलेंज

चैंपियंस ट्रॉफी की बात करें तो इसमें अब तक पाकिस्तान का पलड़ा थोड़ा भारी है। पाकिस्तान के भारत के खिलाफ दो जबकि भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ एक मैच जीते हैं। इस बार ये भारतीय कप्तान विराट के लिए ये सबसे बड़ी चुनौती है कि वो पाकिस्तान की टीम को हराकार इस आंकड़े को 2-2 कर पाते हैं या नहीं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: