आखिर ये हो क्या रहा है इस बार आइपीएल में, हैरान करने वाली हैं ये बातें

आखिर ये हो क्या रहा है इस बार आइपीएल में, हैरान करने वाली हैं ये बातेंआखिर ये हो क्या रहा है इस बार आइपीएल में, हैरान करने वाली हैं ये बातें

(शिवम् अवस्थी), स्पेशल डेस्क- नई दिल्ली। इस बार आइपीएल में कई ऐसी चीजें हो रही हैं जो इस आइपीएल को बाकी सीजन से जुदा और बेहद अजीब भी बनाती हैं। मौजूदा संस्करण में कई ऐसे आंकड़े हैं जो अनोखे होने के साथ-साथ अजीब भी लग रहे हैं। क्या उलट-पुलट चल रहा है क्रिकेट के इस तड़के में, आइए जानते हैं।

– पहली बार दिखाया गया ये नजारा

क्रिकेट फैंस को आदत लग गई थी धौनी को कप्तान के रूप में देखने की लेकिन पुणे के मालिकों ने टूर्नामेंट से ठीक पहले स्मिथ को कप्तानी सौंपकर फैंस को नया नजारा दिखा दिया। आइपीएल के 10 सालों में पहली बार धौनी आइपीएल में किसी और की कप्तानी में खेल रहे हैं।

– एक ही दिन में दो बार..

आइपीएल में गेंदबाजों के कई दिलचस्प प्रदर्शन देखे जाते रहे हैं। कई खिलाड़ियों ने इस टूर्नामेंट में हैट्रिक भी ली। कुछ तो ऐसे गेंदबाजों ने भी हैट्रिक ली जो एक पार्ट टाइम गेंदबाज हैं लेकिन ऐसा पहली बार देखा गया कि एक ही दिन में दो-दो हैट्रिक देखने को मिल गईं। उस दिन बैंगलोर-मुंबई के बीच मैच में बैंगलोर के सैमुअल बद्री ने हैट्रिक ली जबकि शाम होते-होते आइपीएल के अपने पहले ही मैच में गुजरात लायंस के ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर एंड्रयू टाइ ने हैट्रिक ले डाली।

– फाइनल वाली टीम आखिरी स्थान पर

मौजूदा अंक तालिका को देखें तो अजीब नजारा है। जो टीम पिछली बार शानदार प्रदर्शन करते हुए आइपीएल फाइनल में पहुंची थी, वही टीम अब तक 12 मैचों में कुल 2 मैच जीतकर अंतिम स्थान पर बैठी हुई है।

– बैंगलोर ने तोड़ दिया 8 साल पुराना शर्मनाक रिकॉर्ड

जिस टीम में विराट कोहली, क्रिस गेल और एबी डीविलियर्स जैसे दुनिया के तमाम दिग्गज बल्लेबाज मौजूद हैं वो टीम कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 49 रन पर सिमट गई। उसने आठ साल पहले 2009 में राजस्थान रॉयल्स का 58 रनों पर ऑलआउट होने का आंकड़ा पार कर दिया।

– ये क्या विराट !

भारतीय क्रिकेट और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर बैंगलोर की शान व उनके कप्तान विराट कोहली के आंकड़े भी अजीब ही रहे हैं अब तक। जिस विराट ने पिछले आइपीएल में सर्वाधिक रन (973) और एक सीजन में चार शतक जड़ने का रिकॉर्ड बनाया था, वो विराट इस बार रन बनाने के मामले में टॉप-20 से भी बाहर हैं। यही नहीं, उनके साथी एबी डीविलियर्स पिछले साल 687 रन बनाकर तीसरे स्थान पर थे। इस बार इस लिस्ट में उनके नाम का भी अता-पता नहीं है।

– आखिर किसी गेंदबाज ने कर ही दिया ये करिश्मा

आइपीएल के न जाने कितने सीजन बीत गए लेकिन बैंगलोर की टीम के तीन दिग्गजों (विराट कोहली, एबी डीविलियर्स और क्रिस गेल) को एक ही पारी में कोई गेंदबाज आज तक पवेलियन नहीं भेज सका। किंग्स इलेवन पंजाब के संदीप शर्मा ने 5 मई को ये कारनामा कर दिखाया। वो भी बैंगलोर के अपने मैदान पर। 

– सबसे बड़ी जीत

आइपीएल इतिहास की सबसे बड़ी जीत भी शनिवार रात मुंबई ने दर्ज कर ली। मुंबई ने 213 रनों का लक्ष्य देने के बाद मेजबान दिल्ली डेयरडेविल्स को महज 66 रन पर ही समेटकर नया रिकॉर्ड बना डाला।

– गजब की अनोखी टीम है दिल्ली, क्या से क्या क्या कर डाला

इस आइपीएल को अनोखा बनाने में दिल्ली डेयरडेविल्स का भी कोई जवाब नहीं। ये टीम 30 अप्रैल को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मोहाली में 67 रन पर आउट हो गई और अपने आइपीएल इतिहास का सबसे कम स्कोर का शर्मनाक रिकॉर्ड बना डाला। सबको लगा ये टीम तो अब गई….लेकिन फिर अचानक तीन दिन बाद 4 मई गुजरात लायंस उनके सामने 209 रनों का विशाल लक्ष्य रखती है और वही दिल्ली की टीम 214 रन बनाकर मैच जीत लेती है जो इस आइपीएल में किसी भी टीम द्वारा एक पारी में बनाए गए सबसे ज्यादा रन हैं…..लेकिन, लेकिन, लेकिन, ये सस्पेंस यहीं नहीं खत्म होता। एक दिन बाद 6 मई को ये टीम फिर अपने ही मैदान पर मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरती है और इस सीजन का अपना ही सबसे कम रनों का रिकॉर्ड तोड़कर इस बार 66 रन पर सिमट जाती है। उतार-चढ़ाव का ये खेल अब उनके दिग्गज कोच राहुल द्रविड़ भी शायद नहीं समझ पा रहे होंगे।

(वैसे इसके अलावा भी कई अनोखी व अजीब चीजें हुई हैं इस आइपीएल में लेकिन ये कुछ ऐसी बड़ी चीजें हैं जो टूर्नामेंट के अंत में फैंस को सोचने को मजबूर कर देंगी- कि सीजन-10 वाकई अनोखा रहा।)

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: