आइपीएल के अगले सीज़न में होंगे बड़े बदलाव, पूरी तरह से बदल जाएगा टूर्नामेंट

आइपीएल के अगले सीज़न में होंगे बड़े बदलाव, पूरी तरह से बदल जाएगा टूर्नामेंटआइपीएल के अगले सीज़न में होंगे बड़े बदलाव, पूरी तरह से बदल जाएगा टूर्नामेंट

कानपुर, जेएनएन। इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) का 11वां संस्करण नया-नया सा होगा। उसमें कई अहम बदलाव होंगे। सबसे बड़ा बदलाव आइपीएल टीमों को लेकर होगा। नए सिरे से टीमें बनाई जाएंगी। फ्रेंचाइजी नए खिलाड़ी और खिलाड़ी नई टीमों का चयन कर सकेंगे। यह जानकारी आइपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने दी।मंगलवार को दस व 13 मई को होने वाले मैचों की तैयारियां परखने के लिए ग्रीनपार्क पहुंचे शुक्ला ने कहा कि आइपीएल का क्रेज दर्शकों में बढ़ता जा रहा है।

अगले संस्करण में चेन्नई सुपर किंग व राजस्थान रॉयल्स की भी वापसी होगी। गुजरात लायंस और राइजिंग पुणे सुपरजायंट पर आइपीएल गवर्निग कांउसिल की बैठक में फैसला होगा। बैठक में फ्रेंचाइजी अपने लिए नए होम ग्राउंड का भी चयन करेंगी। कई बदलाव के साथ होने वाले आइपीएल 2018 में राजस्व का बंटवारा भी नए सिरे से तय होगा।

यूपी में मैच बढ़ेंगे : शुक्ला ने लखनऊ के इकाना स्टेडियम के बारे में बताया कि 50 हजार दर्शक क्षमता वाला अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम तैयार हो रहा है। यूपीसीए का 30 वर्ष के लिए एमओयू भी हुआ है। वहां अंतरराष्ट्रीय मैच करवाए जाएंगे, पर इससे ग्रीनपार्क के मैचों में कमी नहीं आएगी। प्रदेश में मैचों की संख्या बढ़ेगी। गुजरात लायंस का ग्रीनपार्क से हुआ दो वर्ष का करार समाप्त हो जाएगा, पर कई टीमें यूपी और उसमें भी ग्रीनपार्क को होम ग्राउंड बनाने को लेकर उत्सुक हैं।

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply