Tubelight फ़्यूज़ हुई तो क्या ‘टाइगर ज़िंदा है’, दूसरे हाफ़ की 10 Most Anticipated Films

Tubelight फ़्यूज़ हुई तो क्या 'टाइगर ज़िंदा है', दूसरे हाफ़ की 10 Most Anticipated FilmsTubelight फ़्यूज़ हुई तो क्या ‘टाइगर ज़िंदा है’, दूसरे हाफ़ की 10 Most Anticipated Films

मुंबई। 2017 के पहले हाफ़ में कुछ बड़ी फ़िल्में रिलीज़ हुईं, मगर बॉक्स ऑफ़िस की परफॉर्मेंस कुछ ख़ास नहीं रही। यहां तक कि सलमान ख़ान की ‘ट्यूबलाइट’ ने भी दर्शकों और ट्रेड को निराश किया है। ऐसे में अब सारी उम्मीदें और नज़रें सेकंड हाफ़ पर टिकी हैं। इस दौरान कुछ बड़ी और इंट्रेस्टिंग फ़िल्में सिनेमाघरों में आएंगी। आइए, नज़र डालते हैं ऐसी टॉप 10 फ़िल्मों पर। 

10. मुबारकां: 

‘मुबारकां’ के एंटिसिपेशन की वजह इसके डायरेक्टर अनीस बज़्मी और एक्टर्स अनिल कपूर-अर्जुन कपूर की जोड़ी है। अनीस की कॉमेडी फ़िल्में पिछले कुछ सालों में बॉक्स ऑफ़िस पर सक्सेसफुल रही हैं। साथ ही ‘मुबारकां’ में रियल लाइफ़ चाचा-भतीजे अनिल और अर्जुन की जोड़ी पहली बार पर्दे पर साथ आ रही है। 

यह भी पढ़ें: First Half में 23 फ़िल्में हुईं फ़्लॉप, 5 सुपरहिट और 1 हॉलीवुड हिट

9. हसीना: 

अपूर्व लखिया डायरेक्टेड इस फ़िल्म के एंटिसिपेशन की पहली वजह ख़ुद श्रद्धा कपूर हैं जो अब तक रोमांटिक रोल्स निभाती रही हैं, मगर पहली बार रियल लाइफ़ करेक्टर में दिखायी देंगी, वो भी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर का। श्रद्धा का यही ट्रांस्फॉर्मेशन फ़िल्म के लिए उत्सुकता बढ़ाता है।

8. अ जेंटलमैन:

राज एंड डीके डायरेक्टेड फ़िल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा और जैकलीन फ़र्नांडिस लीड रोल्स में हैं। इसके ‘बैंग बैंग’ का सीक्वल बताया जा रहा है, जिसमें रितिक रोशन और कटरीना कैफ़ ने लीड रोल्स निभाये थे। फ़िल्म के फ़र्स्ट लुक ने भी इसके लिए इंतज़ार मुश्किल बना दिया है। 

यह भी पढ़ें: रियल लाइफ़ से कम नहीं इन ऑनस्क्रीन फ़ादर-डॉटर की जोड़ियां

7. जुड़वा 2:

‘जुड़वा 2′ को डेविड धवन डायरेक्ट कर रहे हैं। वरुण की ये पहली फ़िल्म है, जिसमें वो दो हो गये हैं। फ़िल्म के एंटिसिपेशन की सबसे बड़ी वजह इसका सलमान ख़ान से जुड़ा होना है। पहले वाली ‘जुड़वा’ में सलमान डबल रोल्स में थे। 

6. टॉयलेट एक प्रेम कथा:

अक्षय कुमार की इस साल ये दूसरी फ़िल्म होगी। ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ स्वच्छता अभियान को समर्पित फ़िल्म है। इसके एंटिसिपेशन की वजह इसका टॉपिक ही है। खुले में शौच के ख़िलाफ़ जागरूक करने वाली फ़िल्म में अक्षय के साथ पहली बार भूमि पेडनेकर फ़ीमेल लीड रोल में हैं।

यह भी पढ़ें: हेयरहोस्टेस पर आ गया था राज कुमार का दिल, 5 दिलचस्प बातें

5. भूमि:

‘भूमि’ को उमंग कुमार डायरेक्ट कर रहे हैं। इस फ़िल्म से संजय दत्त लंबे अंतराल के बाद बड़े पर्दे पर लौट रहे हैं, मगर जो बात इस फ़िल्म को ख़ास बनाती है, वो है उनका रोल। संजय पिता बनकर लौट रहे हैं। उनकी बेटी के रोल में अदिति राव हैदरी हैं। फ़िल्म के प्लॉट को छिपाकर रखना भी इसके एंटिसिपेशन की वजह है।

4. गोलमाल अगेन:

रोहित शेट्टी डायरेक्टेड ‘गोलमाल अगेन’ इस फ़न सीरीज़ की चौथी फ़िल्म है। इस हिट फ्रेंचाइजी में अजय, अरशद वारसी और तुषार कपूर के साथ लौट रहे हैं। ‘गोलमाल अगेन’ के एंटिसिपेशन की वजह इस फ्रेंचाइजी की रेप्यूटेशन है। दर्शकों को भरोसा रहता है कि ‘गोलमाल अगेन’ के टिकट पर ख़र्च किया पैसा फ़िजूल नहीं जाएगा।

यह भी पढ़ें: 8 से 10 घंटे चली ऊंची है बिल्डिंग गाने की शूटिंग, जैकलीन हैं कमाल

3.जग्गा जासूस: 

‘जग्गा जासूस’ को अनुराग बसु ने डायरेक्ट किया है और इसके एंटिसिपेशन की सबसे बड़ी वजह रणबीर कपूर और कटरीना कैफ़ की जोड़ी है। फ़िल्म देरी होने और रणबीर-कटरीना के ब्रेकअप की वजह से भी ख़बरों में रही है। मगर, अब रणबीर को स्कूल किड के अवतार में देखने के लिए दर्शकों को इसका इंतज़ार है।

2.जब हैरी मेट सेजल:

‘जब हैरी मेट सेजल’ के मोस्ट एंटिसिपेटेड फ़िल्मों में शामिल होने की सबसे बड़ी वजह डायरेक्टर इम्तियाज़ अली और शाह रुख़ ख़ान की फ़र्स्ट टाइम पेयरिंग है। रही-सही कसर फ़िल्म के मिनी ट्रेल्स ने पूरी कर दी है। जैसे-जैसे मिनी ट्रेल रिलीज़ किये जा रहे हैं, शाह रुख़-अनुष्का की केमिस्ट्री की पर्तें खुल रही हैं, जो काफ़ी दिलचस्प है।

यह भी पढ़ें: मौनी संग गोल्ड के सफ़र पर निकले अक्षय कुमार, फ़र्स्ट लुक किया जारी

1. टाइगर ज़िदा है:

साल 2017 की मोस्ट एंटिसिपेटेड फ़िल्मों में सलमान ख़ान की ‘टाइगर ज़िंदा है’ पहले स्थान पर है। वैसे तो ‘ट्यूबलाइट’ से भी काफ़ी उम्मीदें थीं, मगर ‘टाइगर ज़िंदा है’ से एंटिसिपेशन होने की सबसे बड़ी वजह इसका प्रीक्वल ‘एक था टाइगर’ है। पार्ट 2 में सलमान और कटरीना के स्पाई किरदारों की प्रेम कहानी आगे बढ़ेगी। फ़िल्म को सलमान को ‘सुल्तान’ बनाने वाले अली अब्बास ज़फ़र डायरेक्ट कर रहे हैं।

 

By
मनोज वशिष्ठ 

Tags:
author

Author: