2006 मुंबई ट्रेन धमाके: 188 की मौत के लिए 5 को फांसी, 7 को उम्र कैद

मुंबई : मुंबई की मकोका कोर्ट ने मुंबई ट्रेन ब्लास्ट मामले में 5 को फांसी और 7 दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. एहतेशाम सिद्दीकी (30), मोहम्मद फैसल शेख, आसिफ खान (38), नवीद हुसैन खान (30) और कमाल अंसारी को फांसी की सजा सुनाई गई है. अदालत ने इस केस में 13 में से 12 आरोपियों को दोषी करार दिया था.

 

ग़ौरतलब है कि 11 जुलाई, 2006 को लोकल ट्रेन में हुए सिलसिलेवार 7 धमाकों में 188 लोग मारे गये थे और करीब 700 लोग घायल हुए थे. पहला ब्लास्ट शाम 6 बजकर 24 मिनट पर हुआ, जोकि 11 मिनट तक अलग-अलग इलाकों में जारी रहा. ये धमाके माटुंगा से मीरा रोड के बीच हुए थे.

इन धमाकों की जांच धमाके के दिन ही एटीएस को सौंप दी गई. एटीएस ने इस मामले में कुल 13 लोगों को आरोपी बनाया था. आरोप है कि प्रतिबंधित संगठन सिमी ने इन धमाकों की साजिश रची थी और सिमी ने इन धमाकों को पाकिस्तान की शह पर अंजाम दिया था.

Tags:
author

Author: