हो गया तय, अब कोई नहीं कर पाएगा विरोध, 26 जुलाई को होगी बीसीसीआइ की एसजीएम

हो गया तय, अब कोई नहीं कर पाएगा विरोध, 26 जुलाई को होगी बीसीसीआइ की एसजीएम

नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी: सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति की स्टेटस रिपोर्ट सर्वोच्च अदालत में दाखिल होने के बाद बीसीसीआइ ने फिर से अपनी विशेष आम सभा (एसजीएम) 26 जुलाई को दिल्ली में ही बुलाई है। कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना के निर्देश पर कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने बुधवार को इसे लेकर सभी राज्य संघों को नोटिस भी जारी कर दिया है।

पहले यह बैठक मंगलवार को दिल्ली में होनी थी, लेकिन छह राज्य संघों के विरोध के कारण इसे टाल दिया गया। तमिलनाडु, सौराष्ट्र, केरल, हरियाणा, कर्नाटक और गोवा क्रिकेट संघों ने कम समय में बुलाई गई इस बैठक का विरोध किया था। एसजीएम आयोजित करने के लिए दस दिन पहले नोटिस देना होता है। अगर इससे कम समय में इसे आयोजित करना हो तो सभी राज्य संघों की सहमति जरूरी होती है। यही कारण था मंगलवार को एसजीएम नहीं हो पाई।

अब बैठक 26 जुलाई को है इसलिए कोई भी राज्य संघ इसका विरोध नहीं कर सकता है। इस बैठक का एजेंडा वही होगा जो पिछली बैठक का था। इसका मतलब इसमें उसके द्वारा बनाई गई समिति की रिपोर्ट पर चर्चा होगी। बोर्ड की समिति लोढ़ा समिति के चार मुद्दों को छोड़कर बाकी सिफारिशों पर सकारात्मक है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By
Pradeep Sehgal 

Tags:
author

Author: