सैफ अली खान की ये बात सही है तो कंगना रनौत अपने घर में होतीं किसान

सैफ अली खान की ये बात सही है तो कंगना रनौत अपने घर में होतीं किसान

मुंबई। कुछ दिन पहले न्यूयॉर्क में हुए आईफा अवॉर्ड्स 2017 के दौरान कंगना रनौत और नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) को लेकर किए गए मजाक पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। सैफ ने इस विषय पर पत्र लिख कर सोशल मीडिया और जेनेटिक्‍स तक को जोड़ा। इसके बाद कंगना ने भी पत्र लिखकर जेनेटिक्स की बात को लेकर कहा कि, अगर सैफ जेनेटिक्स वाली बात सही है तो वो अपने घर में आज एक किसान होतीं।

नेपोटिज्म का मुद्दा आईफा अवॉर्ड्स से जो शुरू हुआ तो थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। आईफा अवॉर्ड फंक्शन में करण जौहर, वरुण धवन और सैफ अली खान एक एक्ट के माध्यम से नेपोटिज्म विषय पर बात करते हुए कंगना रनौता का मजाक उड़ाते हैं और बाद में माफी भी मांग लेते हैं। हाल ही में सैफ ने डीएनए में प्रकाशित ओपन लेटर में लिखा कि आईफा के दौरान नेपोटिज्म पर की गई बातें मजाक थीं और इसे इतना बढ़ाने की जरूरत नहीं थी। मैंने कंगना से निजी तौर पर माफी मांग ली थी। इसलिए वो बात वहीं खत्म हो जानी चाहिए थी। इसके बाद अब सैफ के ओपन लेटर का जवाब देते हुए कंगना ने भी हमारे सहयोगी अखबार मिड-डे में एक पत्र लिखा है। कंगना के इस पत्र में बहुत सारी बातें शामिल है। खास तौर पर जेनेटिक्स वाली। कंगना लिखती हैं, अपनी चिट्ठी के एक और हिस्से में आपने अनुवांशिकता और स्टार के बीच संबंध की बात की है मैंने अपनी जिंदगी के कई साल जेनेटिक्स को पढ़ने और समझने में लगाया है लेकिन मुझे ये समझ नहीं आया कि आप जीन को मिलाकर हाइब्री़ड रेस के घोड़ों की तुलना कलाकार से कैसे कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: कपिल शर्मा मुश्किल में, शो गिरा और सेहत भी

कंगना आगे लिखती हैं, क्या आप ये कह रहे हैं कि कलात्मक कौशल, कठोर परिश्रम, अनुभव, एकाग्रता, उत्साह, उत्सुकता, अनुशासन और प्यार, परिवार जीन के माध्यम से विरासत में प्राप्त किया जा सकता है? अगर आपकी बात सही है तो मैं आज अपने घर में एक किसान होती। मुझे समझ नहीं आता कि मेरे जीन पूल में से किस जीन ने मुझे पर्यावरण को समझने की उत्सुकता को बढ़ाया। आपको बता दें कि, इसी साल सैफ, कंगना और शाहिद कपूर स्टारर फिल्म रंगून आई थी जो बॉक्स अॉफिस पर फ्लॉप रही थी। इसे विशाल भारद्वाज ने डायरेक्ट किया था। 

By
Rahul soni 

Tags:
author

Author: