सिर्फ विराट या धौनी ही नहीं, 24 जून से इन्हें भी है आपकी दुआओं का इंतजार

सिर्फ विराट या धौनी ही नहीं, 24 जून से इन्हें भी है आपकी दुआओं का इंतजारसिर्फ विराट या धौनी ही नहीं, 24 जून से इन्हें भी है आपकी दुआओं का इंतजार

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। रविवार को आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला खेला जाना है। आमने-सामने भारत और पाकिस्तान हैं, इसलिए दीवानगी और भी बढ़ चुकी है। सभी भारतीय क्रिकेट फैंस विराट, धौनी, रोहित, धवन जैसे अपने तमाम दिग्गज खिलाड़ियों के लिए दुआ कर रहे हैं..लेकिन हमारा सवाल ये है कि क्या क्रिकेट फैंस को पता भी है कि 24 जून से इंग्लैंड में एक और बड़ा टूर्नामेंट शुरू होने जा रहा है? एक ऐसा टूर्नामेंट जहां पर फिर से आपकी दुआओं की जरूरत महसूस होगी, तो क्या आप तैयार हैं?

– होगा वर्ल्ड कप का आगाज

हम बात कर रहे हैं आइसीसी महिला क्रिकेट विश्व कप के बारे में। आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के बाद इंग्लैंड व वेल्स ही इस टूर्नामेंट की मेजबानी करने जा रहा है। ये 11वां महिला क्रिकेट विश्व कप होगा और यहां आठ देश इस प्रतिष्ठित खिताब के लिए आमने-सामने होंगे। इंग्लैंड इससे पहले 1973 और 1993 में भी इस टूर्नामेंट की मेजबानी कर चुका है। इस बार टूर्नामेंट 28 दिन का होगा, जिस दौरान 31 मैच खेले जाएंगे। टूर्नामेंट का फाइनल 23 जुलाई को लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा। 

– कैसी है भारतीय टीम और कैसा है हमारा रिकॉर्ड?

भारतीय महिला क्रिकेट टीम का महिला विश्व कप इतिहास में रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। वे 1973 से 2013 के बीच हुए 10 महिला विश्व कप में एक बार भी खिताब जीतने में सफल नहीं रही हैं। वो भी तब जब हम तीन बार इस टूर्नामेंट की मेजबानी कर चुके हैं। भारतीय टीम का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2005 में दक्षिण अफ्रीका में आयोजित विश्व कप में देखने को मिला था। भारतीय महिला टीम उस साल फाइनल में पहुंची थी हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने उन्हें 98 रन से मात देकर खिताब अपने नाम कर लिया था। इस बार भारतीय टीम मजबूत नजर आ रही है और कप्तान मिताली राज व ऑलराउंडर झूलन गोस्वामी पसंदीदा खिलाड़ियों में से रहेंगी। झूलन हाल ही में दुनिया की नंबर.1 वनडे महिला गेंदबाज भी बनी हैं। ऑस्ट्रेलिया में जलवा बिखेर चुकी हरमनप्रीत कौर भी चर्चा का विषय रहेंगी। चर्चित वुमेंस क्रिकेट एक्सपर्ट सुनील कालरा कहते हैं, ‘कप्तान मिताली राज पांचवां विश्व कप खेलने उतरने वाली हैं जिससे आप उनके अनुभव का अंदाजा खुद लगा सकते हैं। भारत की लड़कियां पांच बार सेमीफाइनल तक पहुंच चुकी हैं जो साबित करता है कि ये वनडे क्रिकेट की एक बेहतरीन टीम है। गेंदबाजी में झूलन और एकता बिष्ट से काफी उम्मीदें रहेंगी। लक्ष्य का पीछा करने में भारतीय टीम बेहद शानदार है और ये पहलु टीम को फायदा पहुंचा सकता है’। 

– अब तक किसने-किसने जीता खिताब, कौन है सबसे मजबूत?

आपको जानकर हैरानी होगी कि अब तक 10 महिला विश्व कप में 6 बार ये खिताब ऑस्ट्रेलिया ने अपने नाम किया है। मौजूदा चैंपियन भी ऑस्ट्रेलिया ही है और सबसे मजबूत टीम भी वही नजर आ रही है। आइए जानते हैं किसने-किसने कब-कब इस खिताब को अपने नाम किया..

1973- मेजबान- इंग्लैंड, चैंपियन- इंग्लैंड

1978- मेजबान- भारत, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

1982- मेजबान- न्यूजीलैंड, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

1988- मेजबान- ऑस्ट्रेलिया, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

1993- मेजबान- इंग्लैंड, चैंपियन- इंग्लैंड

1997- मेजबान- भारत, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

2000- मेजबान- न्यूजीलैंड, चैंपियन- न्यूजीलैंड

2005- मेजबान- द.अफ्रीका, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

2009- मेजबान- ऑस्ट्रेलिया, चैंपियन- इंग्लैंड 

2013- मेजबान- भारत, चैंपियन- ऑस्ट्रेलिया

– आइसीसी महिला विश्व कप 2017 के लिए भारतीय टीम

मिताली राज (कप्तान), एकता बिष्ट, राजेश्वरी गायकवाड़, झूलन गोस्वामी, मानसी जोशी, हरमनप्रीत कौर, वेदा कृष्णमूर्ती, स्मृति मंधना, मोना मेशराम, शिखा पांडे, नुजात परवीन, पूनम यादव, पूनम राउत, दीप्ती शर्मा और सुष्मा वर्मा। 

यह भी पढ़ेंः दो साल बाद भारत और रोहित ने लिया इस बांग्लादेशी गेंदबाज से बदला

By
Shivam Awasthi 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply