शास्त्री के लिए हुई थी तगड़ी गोलबंदी, बीसीसीआइ अधिकारियों ने किया कमाल?

शास्त्री के लिए हुई थी तगड़ी गोलबंदी, बीसीसीआइ अधिकारियों ने किया कमाल?

नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी। एक तरफ सौरव गांगुली की पसंद वीरेंद्र सहवाग थे तो दूसरी ओर सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली के फेवरेट रवि शास्त्री। इस बार शास्त्री के लिए तगड़ी गोलबंदी हुई जिसके कारण वह टीम इंडिया का मुख्य कोच बनने में सफल रहे। हालांकि सोमवार को साक्षात्कार के बाद से ही वीरू इस रेस में आगे आ गए थे, लेकिन मंगलवार को पासा पलट गया। 

इसमें मुख्य भूमिका सीईओ राहुल जौहरी की रिपोर्ट और कुछ बीसीसीआइ अधिकारियों की पसंद ने लगाई। हालांकि बोर्ड के सभी अधिकारी यह कहते नहीं थक रहे कि कोच के चयन में उनकी कोई भूमिका नहीं है। यह फैसला पूरी तरह से सचिन, सौरव व लक्ष्मण की क्रिकेट एडवाइजरी समिति (सीएसी) का है, लेकिन इस पर विश्वास करना मुश्किल है।

कोहली और शास्त्री में हमेशा से अच्छे संबंध रहे, लेकिन पिछले साल सीएसी ने शास्त्री की जगह अनिल कुंबले को मुख्य कोच बना दिया। उस समय विराट कप्तान के तौर पर नए थे और यही कारण रहा कि वह अपना विरोध नहीं जता पाए। यही नहीं सीएसी ने उनसे इस बारे में पूछा भी नहीं, लेकिन छह महीने के भीतर ही विराट और सीएसी द्वारा चुने गए मुख्य कोच के बीच बात ऐसी बिगड़ी कि दोनों ने एक-दूसरे से बात करना भी बंद कर दिया। 

हालांकि सीएसी तब भी उन्हें कोच बनाए रखना चाहती थी, लेकिन कोहली ने खुलकर उनके खिलाफ बोल दिया। कुंबले ने चैंपियंस ट्रॉफी के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि इससे पहले ही नए कोच की खोज शुरू हो चुकी थी। इस दौरान जहां सहवाग दादा के साथ नजदीकियां बढ़ा रहे थे तो बीसीसीआइ के दो पदाधिकारी ओवल स्टेडियम के कॉमेंट्री बॉक्स में चढ़कर शास्त्री से मिलने गए। यही नहीं, जब भारत ने सेमीफाइनल में बांग्लादेश को हराया तो मैदान में ही पुरस्कार समारोह के दौरान मौजूद शास्त्री से जिस तरह कोहली मिले उससे साफ लगा कि यहां कुछ और ही पक रहा है। हालांकि इसके बाद भी दादा को शास्त्री के लिए मनाना आसान नहीं था। कोच के लिए आवेदन की अंतिम तारीख से पहले ही बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी वेस्टइंडीज में सीरीज खेल रही भारतीय टीम से मिलने पहुंचे। उन्होंने कोच को लेकर विराट कोहली और बाकी टीम से बात की। उन्होंने इसे सीएसी को बताया। हालांकि गांगुली सोमवार को साक्षात्कार के बाद भी फैसले को टालने में सफल रहे जिसके बाद सीएसी के एक सदस्य ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) से बात की। जिसके बाद उनकी तरफ से कहा गया कि कोच की घोषणा जल्द से जल्द की जाए। इसके बाद मंगलवार को शास्त्री, जहीर खान और राहुल द्रविड़ के नामों की घोषणा की गई।

गांगुली ने सोमवार को कहा था कि हमें कोच का नाम तय करने के लिए कप्तान और टीम के अन्य साथियों से बातचीत करनी होगी। इसके लिए कुछ और दिनों की जरूरत है। हालांकि विराट भी भारत आने की जगह अमेरिका चले गए हैं, क्योंकि उनकी गर्लफ्रेंड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा शूटिंग के सिलसिले में वहीं हैं। हालांकि सूत्रों का कहना है कि सीएसी ने फोन पर कोहली से बात कर ली थी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By
Bharat Singh 

Tags:
author

Author: