‘बाहुबली’ की देवसेना समेत इन 5 ब्यूटीज़ की वापसी का है बॉलीवुड को इंतज़ार

'बाहुबली' की देवसेना समेत इन 5 ब्यूटीज़ की वापसी का है बॉलीवुड को इंतज़ार‘बाहुबली’ की देवसेना समेत इन 5 ब्यूटीज़ की वापसी का है बॉलीवुड को इंतज़ार

मुंबई। तापसी पन्नू, इलियाना डिक्रूज़, काजल अग्रवाल जैसी एक्ट्रेसेज़ साउथ सिनेमा के दायरे से निकलकर अब बॉलीवुड में भी अपना हुनर दिखा रही हैं। मगर, इनके अलावा भी बहुत सी एक्ट्रेसेज़ ऐसी हैं, जिनका टेलेंट और ब्यूटी देखकर आपके ज़हन में ये ख्याल ज़रूर आएगा कि बॉलीवुड में इनकी Visibility बढ़नी चाहिए। ऐसी ही 5 साउथ इंडियन एक्ट्रेसेज़ के बारे में ये रिपोर्ट।

भारतीय सिनेमा की सबसे बड़ी फ़िल्म बन चुकी ‘बाहुबली- द कंक्लूज़न’ में देवसेना का किरदार अनुष्का शेट्टी ने निभाया है। पहले भाग ‘बाहुबली- द बिगिनिंग’ में अनुष्का का काम ज़्यादा नहीं था, मगर दूसरे भाग की लीडिंग लेडी अनुष्का ही थीं। फ़िल्म में उनकी ख़ूबसूरती और अदाकारी को काफ़ी पसंद किया गया। मुख्य रूप से तेलुगु और तमिल भाषाओं में फ़िल्में कर चुकीं अनुष्का ‘बाहुबली’ के ज़रिए हिंदी दर्शकों तक पहली बार पहुंचीं और अब लगता है कि उनको ज़्यादा हिंदी फ़िल्में करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें: कटरीना कैफ़ ही नहीं, ये भी हैं बॉलीवुड की टाइग्रेस

अनुष्का अब ‘साहो’ में दिखेंगी, जिसमें एक बार फिर उनके हीरो बाहुबली प्रभास ही हैं। सुजीत डायरेक्टेड ये फ़िल्म तेलुगु के साथ तमिल, मलयालम और हिंदी में बनायी जा रही है। अनुष्का का ये मलयालम डेब्यू भी होगा।

यह भी पढ़ें: बाप खेल रहा है, क्रिकेट टीम भेजो, खो-खो की नहीं, पाक के पीछे ऋषि कपूर

राय लक्ष्मी साउथ की सभी भाषाओं के सिनेमा में काम करती रही हैं। लक्ष्मी ने सोनाक्षी सिन्हा के साथ ‘अकीरा’ से हिंदी सिनेमा में डेब्यू किया। हालांकि ये स्पेशल एपीयरेंस ही था, मगर लक्ष्मी की अदाकारी को देखकर लगा कि उन्हें अपनी हिंदी फ़िल्मों की तादाद बढ़ानी चाहिए। वैसे ‘जूली 2′ में हिंदी सिनेमा के दर्शक उन्हें जल्द देखेंगे। इस फ़िल्म में लक्ष्मी का टाइटल रोल है। 

यह भी पढ़ें: कभी सलमान ख़ान कंट्रोवर्सी के पीछे, कभी कंट्रोवर्सी सलमान के पीछे

ब्रिटेन से आयीं एमी जैक्सन ने 2012 में ही हिंदी सिनेमा में डेब्यू कर लिया था। ‘एक दीवाना था’ आपको याद होगी, जिसमें प्रतीक बब्बर लीड रोल में थे। इसके बाद वो अक्षय कुमार के साथ ‘सिंह इज़ ब्लिंग’ में भी दिखायी दीं। एमी की लास्ट हिंदी फ़िल्म ‘फ्रीकी अली’ है। इस फ़िल्म में एमी नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी के साथ पर्दे पर नज़र आयीं, मगर एमी की ख़ूबसूरती और टेलेंट को देखकर लगता है कि बॉलीवुड में उन्हें ज़्यादा मौक़े मिलने चाहिए। तमिल और तेलुगु में मुख्य रूप से काम करने वाली एमी अब ‘2.0’ में दिखायी देंगी, जिसमें वो रजनीकांत और अक्षय कुमार के साथ स्क्रीन स्पेस शेयर करने वाली हैं। ये मल्टीलिंगुअल फ़िल्म है। 

यह भी पढ़ें: इन सुपरस्टार्स का छोटे पर्दे पर नहीं चला जादू, रहे फ्लॉप

‘एक दीवाना था’ में ही साउथ की एक और ख़ूबसूरत एक्ट्रेस नज़र आयी थीं। ये हैं सामंता प्रभु, जिन्होंने फ़िल्म में केमियो किया था। इसके बाद वो 2012 में ‘ईगा’ के ज़रिए हिंदी सिनेमा के दर्शकों के बीच आयीं। एसएस राजामौली डायरेक्टेड फ़िल्म को हिंदी में ‘मक्खी’ के नाम से रिलीज़ किया गया था। तमिल और तेलुगु सिनेमा में अपनी छाप छोड़ रहीं सामंता से उम्मीद है कि बॉलीवुड फ़िल्मों को भी अपनी टू-डू लिस्ट में रखेगीं।

यह भी पढ़ें: तलाक़ के बाद ऐसे बढ़ रही है इन सेलेब्स की लाइफ़, कहानी फ़िल्मी है

साउथ की सभी भाषाओं के सिनेमा में प्रियमणि का नाम ख़ास पहचान रखता है। नेशनल अवॉर्ड जीत चुकीं प्रियमणि बहली बार हिंदी सिनेमा मणि रत्नम की फ़िल्म ‘रावण’ के ज़रिए दिखायी दीं। इसके बाद ‘रक्त चरित्र 2′ में भी प्रियमणि ने फ़ीमेल लीड रोल निभाया। उनकी लास्ट हिंदी फ़िल्म ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ है, जिसके एक गाने में प्रियमणि ने शाह रुख़ ख़ान के साथ स्पेशल एपीयरेंस दी थी। प्रियमणि को हिंदी सिनेमा में ज़्यादा दिखना चाहिए।

By
मनोज वशिष्ठ 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply