घृणित अपराध के बावजूद भारतवंशियों ने कहा, अमेरिका में रहने के लिए हैं हम

घृणित अपराध के बावजूद भारतवंशियों ने कहा, अमेरिका में रहने के लिए हैं हमघृणित अपराध के बावजूद भारतवंशियों ने कहा, अमेरिका में रहने के लिए हैं हम

वाशिंगटन, प्रेट्र : भारतवंशी अमेरिकियों ने अमेरिका में जातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ घृणा अपराध की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जताई है। उन्होंने इस सिलसिले में कई बैठकें आयोजित कीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि वे अमेरिका में रहने के लिए हैं।

साउथ एशियन अमेरिकंस लीडिंग टुगेदर (एसएएएलटी) की सुमन रंगनाथन ने कहा, ‘बंदूकधारी या राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप क्या कहते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, यह हमारा देश है और हम यहां रहने के लिए हैं। हम अपने अधिकार और बराबरी की मांग जारी रखेंगे।’

रंगनाथन शुक्रवार को यहां टाउन हॉल में बैठक को संबोधित कर रही थीं। बैठक को समुदाय के प्रमुख लोगों ने भी संबोधित किया। इनमें जार्जटाउन यूनिवर्सिटी लॉ सेंटर के अर्जुन सेठी, आशा फॉर वीमेन की डॉ. रेवती विक्रम, खुशडीसी के शबाब अहमद मिर्जा, वाशिंगटन पीस सेंटर के डी. राजा और कैपिटल एरिया एमिग्रांट्स राइट्स कोलिएशन की कैथी डोआन शामिल थे। हाल ही में हुईं घृणा अपराध की घटनाओं के खिलाफ भारतवंशी अमेरिकियों ने कैंडल लाइट मार्च निकाला। इसमें यहूदियों और मुसलमानों ने भी हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें: अमेरिका में बढ़ रही नस्लीय हिंसा, अब सिख लड़की से हुअा दु‌र्व्यवहार

Tags:
author

Author: