गाय और गुजरात पर सेंसर सख़्त, अमर्त्य सेन पर बनी डॉक्यूमेंट्री रोकी

गाय और गुजरात पर सेंसर सख़्त, अमर्त्य सेन पर बनी डॉक्यूमेंट्री रोकी

मुंबई। सेंसर बोर्ड ने जाने माने अर्थशास्त्री और नोबल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन पर बनी सुमन घोष की डॉक्यूमेंट्री ‘द आर्ग्यूमेनटेटिव इंडियन’ से चार शब्दों को हटाने को कहा है। सेंसर ने फिलहाल इसे पास करने से इंकार कर दिया है।

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक सेंसर को गुजरात, गाय, हिंदुत्व व्यू ऑफ इंडिया और हिंदू इंडिया जैसे शब्दों पर आपत्ति है और इन्हें हटाने (बीप करने ) को कहा गया है। घोष के मुताबिक उन्हें मौखिक रूप से इसकी जानकारी दी गई है लेकिन अगर सेन और अर्थशास्त्री कौशिक बसु के बीच हुई बातचीत में से ये शब्द हटा दिए जाएंगे तो डॉक्यूमेंट्री का कोई मतलब ही नहीं रह जाएगा। उन्होंने कहा कि वो इस बारे में सेंसर के लेटर का इंतज़ार कर रहे हैं और ये देखेंगे कि क्या इसे रिव्यू कमिटी के साथ भेजा जा सकता है या नहीं।

यह भी पढ़ें:Box Office: एक हफ़्ते में इंग्लिश विंग्लिश के बराबर पहुंचे के लिए Mom को चाहिए इतने करोड़

इस मामले में जब अमर्त्य सेन से प्रतिक्रिया जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने साफ़ कहा कि ये डॉक्यूमेंट्री उन्होंने नहीं बनाई है इसलिए वो इस बारे में कुछ नहीं बोलना चाहेंगे।

By
Manoj Khadilkar 

Tags:
author

Author: