एएफसी क्वालीफायर: सुनील छेत्री के गोल से किर्गीस्तान से जीता भारत

एएफसी क्वालीफायर: सुनील छेत्री के गोल से किर्गीस्तान से जीता भारतएएफसी क्वालीफायर: सुनील छेत्री के गोल से किर्गीस्तान से जीता भारत

बेंगलुरु, पीटीआइ। भारत ने मंगलवार को यहां एशियन कप 2019 के ग्रुप ‘ए’ के तीसरे दौर के घरेलू चरण के क्वालीफायर मुकाबले में किर्गिस्तान को 1-0 से शिकस्त दी। भारतीय कप्तान सुनील छेत्री ने एक बार फिर अपना बेहतरीन खेल दिखाते हुए विजयी गोल दागा। 

किर्गिस्तान ने शुरुआत में गेंद पर ज्यादातर समय अपना अधिकार रखा और भारत पर हमले बोले। विश्व में 100वें नंबर की भारतीय टीम ने शुरू में थोड़ा संघर्ष किया, लेकिन इसके बाद उसने 132वें नंबर की टीम किर्गिस्तान को ज्यादातर समय बैकफुट पर रखा। 

भारत को 23वें मिनट में सुनहरा मौका मिला। छेत्री ने दो खिलाड़ियों को छकाकर गेंद जैकीचंद सिंह की ओर बढ़ाई, लेकिन उनका शॉट क्रॉस बार के ऊपर चला गया। हाफ टाइम तक दोनों टीमें गोलरहित बराबरी पर थीं। दूसरे हाफ के शुरू में ही जेजे को गोल करने का मौका मिला, लेकिन उनके शॉट में दम नहीं था। 

किर्गिस्तान के इसराइलोव अखिलडिन को 49वें मिनट में बॉक्स में गेंद मिली, लेकिन उनका शॉट ऊपर से बाहर चला गया। हालांकि, मैन ऑफ द मैच छेत्री ने शुरू से ही बेहतरीन खेल दिखाया, लेकिन उन्हें इसका इनाम 69वें मिनट में मिला, जब वह तीन खिलाड़ियों को छकाकर गेंद लेकर आगे बढ़े। उन्होंने जेजे की तरफ गेंद बढ़ाई, जिन्होंने उसे वापस छेत्री को सौंपा और भारतीय कप्तान ने खूबसूरती के साथ उसे गोल में बदलकर टीम को 1-0 से आगे कर दिया। यह छेत्री का 94वें मैच में 54वां गोल है।

भारत ने क्वालीफायर के अपने पिछले मैच में म्यांमार को 1-0 से हराया था और अब किर्गिस्तान को हराकर उसने अंतरराष्ट्रीय मैचों में लगातार सातवीं जीत दर्ज की। इस जीत के साथ भारत अपने ग्रुप में दो मुकाबले जीतकर छह अंकों के साथ शीर्ष पर पहुंच गया है। 

भारत अब किर्गिस्तान और म्यांमार दोनों से आगे है, जिनके दो-दो मैचों में तीन-तीन अंक हैं। मकाऊ का दो मैचों के बाद भी अभी खाता नहीं खुला है। चारों टीमें होम एंड अवे मैच के आधार पर खेलेंगी और ग्रुप से दो शीर्ष टीमें संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले 2019 एएफसी एशियन कप के लिए क्वालीफाई करेंगी।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By
Bharat Singh 

Tags:
author

Author: