आज भी श्रीलंकाई नहीं भूले होंगे वो दिन, जब धौनी के घर में विराट ने दिया था ‘बराबर’ जवाब

आज भी श्रीलंकाई नहीं भूले होंगे वो दिन, जब धौनी के घर में विराट ने दिया था 'बराबर' जवाबआज भी श्रीलंकाई नहीं भूले होंगे वो दिन, जब धौनी के घर में विराट ने दिया था ‘बराबर’ जवाब

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। एक खेल पत्रकार होने के नाते मैचों पर बारीकी से अध्ययन करना रोज की बात है लेकिन कुछ ऐसे मुकाबले होते हैं जो हमेशा के लिए दिल-दिमाग पर अपनी छाप छोड़ जाते हैं। ये वही मुकाबले होते हैं जहां कुछ खिलाड़ी साबित कर देते हैं कि वो दूसरे खिलाड़ियों से क्यों और कैसे अलग हैं। ऐसा ही एक मैच हुआ था तीन साल पहले, जब विराट कोहली ने साबित किया था कि उनका हुनर आम नहीं है। अब जब चैंपियंस ट्रॉफी में भारत और श्रीलंका भिड़ने जा रहे हैं तो एक बार फिर वो यादें ताजा हो गईं।

– धौनी के घर में वो यादगार शाम

16 नवंबर 2014 वो सर्द दिन था जब धौनी के घर यानी रांची के मैदान पर भारत और श्रीलंका की टीमें आमने-सामने थीं। ये भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया आखिरी वनडे मुकाबला था, उसके बाद से दोनों टीमें वनडे क्रिकेट में आमने-सामने नहीं आई हैं। उस मैच से पहले भारत पांच मुकाबलों की सीरीज में 4-0 से आगे चल रहा था और बस एक जीत के साथ श्रीलंका का पूर्ण सफाया करने का मौका था। स्थानीय हीरो धौनी उस मैच में नहीं खेल रहे थे और कप्तान थे विराट कोहली। श्रीलंका ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करते हुए 287 रनों का लक्ष्य सामने रख दिया। श्रीलंकाई कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने इस दौरान 116 गेंदों पर नाबाद 139 रनों की पारी खेली थी और श्रीलंकाई टीम अच्छी स्थिति में पहुंच चुकी थी।

– फिर पिच पर आया टीम इंडिया का सुपरमैन

इसके बाद टीम इंडिया जवाब देने उतरी और 14 रन पर अपने दोनों ओपनर्स (रहाणे और रोहित) के विकेट गंवा दिए। दोनों को मैथ्यूज ने ही बोल्ड किया। पिच पर रायुडू टिके हुए थे और उनका साथ देने पहुंचे कप्तान कोहली। विराट ने श्रीलंका को न सिर्फ करारा जवाब दिया बल्कि ठीक बराबरी का जवाब दिया। उन्होंने ठीक उतने रनों की पारी खेली जितने रन विरोधी कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने बनाए थे और विराट भी नाबाद ही लौटे। विराट ने 126 गेंदों पर नाबाद 139 रन बनाए जिस दौरान उनके बल्ले से 12 चौके और तीन छक्के निकले। भारत ने सात विकेट के नुकसान पर 48.4 ओवर में ही जीत हासिल कर ली और सीरीज पर 5-0 से कब्जा कर लिया।

– वो जीत इसलिए भी थी खास

आपको बता दें कि वो जीत सिर्फ इसलिए खास नहीं थी कि विराट ने इस मैच में धमाल मचाया या फिर भारत ने सीरीज 5-0 से जीती। बल्कि इसके पीछे एक और खास वजह थी। दरअसल ये अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (सभी फॉर्मेट मिलाकर) में श्रीलंका पर भारत की 100वीं जीत भी थी। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ उस समय तक 83 वनडे,14 टेस्ट और 3 टी20 मुकाबले जीते थे। उसके बाद से ये दोनों टीमें कभी आमने-सामने नहीं आईं लेकिन अब गुरुवार को चैंपियंस ट्रॉफी के मुकाबले में वे फिर आमने-सामने हैं, कप्तान भी एक बार फिर वही दोनों खिलाड़ी हैं। देखना दिलचस्प होगा कि इस बार क्या होता है।

यह भी पढ़ेंः विराट, रोहित या युवराज नहीं, इस भारतीय से सबसे ज्यादा घबराएगा श्रीलंका

By
Shivam Awasthi 

Tags:
author

Author: 

Leave a Reply