अभी से करनी होगी टोक्यो ओलंपिक की तैयारी: अंकुर

अभी से करनी होगी टोक्यो ओलंपिक की तैयारी: अंकुरअभी से करनी होगी टोक्यो ओलंपिक की तैयारी: अंकुर

नई दिल्ली। हाल ही में मेक्सिको में खेले गए शू¨टग विश्व कप की डबल ट्रैप स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाले अंकुर मित्तल ने कहा कि 2020 टोक्यो ओलंपिक की अभी से तैयारी शुरू करनी होगी। उन्होंने कहा कि पदक जीतने पर खिलाड़ी के चेहरे पर खुशी सभी को दिखती हैं, लेकिन उसके संघर्ष को कोई नहीं देख पाता है। एक खिलाड़ी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुत सहायता चाहिए। हरियाणा के जिला सोनीपत के भटगांव के रहने वाले अंकुर से अनिल भारद्वाज की बातचीत के मुख्य अंश..

आपने कहा टोक्यो की अभी से प्रैक्टिस करनी होगी। क्यों नहीं हो रही तैयारी?

– अभी तक मैं जो कर पाया हूं, वो घर वालों की बदौलत कर पाया हूं। यूरोपीय देशों में ओलंपिक की तैयारी शुरू हो गई है और भारत में अभी ऐसा कुछ नहीं है। मैं अपने खर्च पर विदेश में ज्यादा समय प्रैक्टिस नहीं कर सकता।

आपका कहना है कि जो शूटर टोक्यो के दावेदार हैं, उन्हें अभी से विदेश भेजा जाए?

– जी, भारतीय शूटिंग टीम को विदेशी खिलाडि़यों के साथ प्रैक्टिस करने का मौका मिलना चाहिए और यह 2020 तक चलता रहना होगा। तभी ओलंपिक में पदक की आशा रखी जा सकती है।

आपने 2014 एशियन गेम में स्वर्ण पदक जीता, उसके बाद क्या विदेश में प्रैक्टिस का मौका मिला?

– 2015 में एक बार विदेश जाने का मौका मिला। लेकिन अगर आपको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतना है तो लगातार उन लोगों के साथ प्रैक्टिस करनी होगी, जो विश्व चैंपियन हैं। हमें ज्यादा मौका नहीं मिलता है।

आपके मुताबिक एक गरीब घर का युवा शूटर नहीं बन सकता?

– देखिए, खिलाड़ी बन सकता है लेकिन उसे सुविधाएं चाहिए और वो महंगी हैं। अब आप देख लें कि किन हालातों में एक शूटर तैयार होता है। मैं अपने घर वालों की मदद की बदौलत यहां तक पहुंचा हूं। भारत में फ्री प्रैक्टिस करने के लिए कोई सुविधा नहीं है।

भारत में शूटिंग के लिए बेहतर सेंटर नहीं हैं क्या?

– दिल्ली और पंजाब में हैं, लेकिन वो ऐसे नहीं हैं कि आप ओलंपिक की तैयारी कर सकें। आप बीच- बीच में कुछ दिन के लिए प्रैक्टिस कर सकते हैं।

केंद्र सरकार ने ओलंपिक तैयारी के लिए एक कमेटी बनाई है?

– सुना है। आशा है कि जल्द खिलाडि़यों को लाभ मिलना शुरू होगा।

युवा खिलाडि़यों के लिए कोई संदेश देना चाहेंगे?

– किसी बड़े टारगेट को लेकर आगे बढ़ें। मुश्किल व सुविधाओं के अभाव में घबराएं नहीं। एक दिन मेरी तरह विजेता बन सकेंगे।

हरियाणा सरकार इनाम में करोड़ों रुपये दे रही है?

– यह अच्छी बात है, लेकिन पहले खेल सुविधाओं पर ध्यान देना जरूरी है। बगैर सुविधाओं के खिलाड़ी नहीं तैयार होंगे।

Tags:
author

Author: